Morena News : मुरैना (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के बागचीनी थाना क्षेत्र के तहत आने वाले कस्बा बागचीनी में जमीन के बंटवारे को लेकर विवाद में बेटे ने पिता पर कट्टे से फायर किया जो उनके कंधे में लगा। गुस्साए पिता ने घायल हालत में ही लायसेंसी बंदूक से बेटे को गोली मार दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जौरा के एसडीओपी सुजीत सिंह ने बताया कि कस्बे में रहने वाला 34 वर्षीय कृष्ण बिहारी मुरैना में ऑटो चलाता था। लॉकडाउन में उसका ऑटो नहीं चला और गुजारे में परेशानी हुई तो कृष्ण बिहारी घर आ गया।

कृष्ण बिहारी ने पिता नरेंद्र सिंह से कहा कि छोटे भाई गोविंद बिहारी सहित पिता नरेंद्र अपना हिस्सा लेकर बाकी 10 बीघा जमीन का हिस्सा दे दें। इस बात को लेकर कई बार रिश्तेदारों ने पंचायत भी बैठाई थी, लेकिन विवाद का समाधान नहीं निकला।

मां ने बताया कि रविवार रात को भी इस बात को लेकर विवाद हुआ था। फिर सब शांत हो गया। सुबह चार बजे चली गोलियां पुलिस के मुताबिक सुबह चार बजे कृष्ण बिहारी पत्नी नीतू को छोड़ने बाइक से निकला था। नीतू ने बताया कि कृष्ण बिहारी उसे चौखट्टा पर छोड़कर बाइक के कागज लाने की बात कहकर गया था। इसके बाद की उसे कोई जानकारी नहीं है।

जबकि मृतक की मां ने बताया कि पिता-पुत्र दोनों में सुबह ही झगड़ा हुआ, गोली चलने की आवाज सुनकर मां बाहर आई तो बेटा मृत पड़ा था और पति जख्मी थे। एसडीओपी सुजीत सिंह के मुताबिक बेटे ने कट्टे से पिता पर गोली चलाई थी और पिता ने लायसेंसी राइफल से फायर किया था।

इनका कहना है

पुत्र ने पिता पर कट्टे से और पिता ने पुत्र पर राइफल से गोली चलाई। बेटे की मौके पर मौत हो गई है। वहीं पिता को गंभीर हालत में ग्वालियर रेफर किया गया है। मौके पर हमें मृतक की पत्नी नहीं मिली है। अन्य लोगों की मौजूदगी की बात कही जा रही है। जांच में अगर ऐसा मिला तो उन्हें भी आरोपित बनाया जाएगा।

-सुजीत सिंह, एसडीओपी जौरा

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना