- राजा मिहिर भोज को अपना-अपना बताने पर ग्वालियर के बाद मुरैना में भी विवाद चरम पर, पुलिस ने शहर में पहरा बढ़ाया तो हाईवे पर हो गया उत्पात।

Morean Raja Mihir Bhoj statue controversy: मुरैना(नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर में लगाई गई राजा मिहिर भोज की प्रतिमा को लेकर अब मुरैना में भी विवाद शुरू हो गया है। पहले क्षत्रिय समाज के सैकड़ों युवाओं ने मुरैना शहर में रैली निकालकर सड़कों को जाम किया, फिर पुरानी कलेक्टोरेट का घेराव कर दिया। इसके बाद गुर्जर समाज के दर्जनों युवाओं ने नारेबाजी करते हुए शहर के कुछ हिस्सों में बाइक रैली निकाल दी। ऐसे हालात देखकर पूरा प्रशासन हाईअलर्ट मोड पर आ गया है। इसके बाद भी युवाओं के एक झुंड ने हाइवे पर वाहनों की तोड़फोड़ करके उत्पात मचा दिया। हाइवे पर वाहनों में ऐसी तोड़फोड़ हुई कि सवारियां वाहनों से उतरकर जान बचाने के लिए इधर-उधर भागती दिखीं।

गुरुवार की सुबह 11 बजे एमएस रोड पर शहीद संग्रहालय के सामने क्षत्रिय समाज के युवा जुटना शुरू हो गए। चंद मिनटों में यहां सैकड़ों युवाओं की भीड़ हो गई, जिसने एमएस रोड के एक हिस्से को जाम कर दिया। युवाओं की यह भीड़ राजा मिहिर भोज को क्षत्रिय राजा बताते हुए गुर्जर समाज के खिलाफ इतिहास चोर की नारेबाजी करने लगे। यहां से सैकड़ों युवाओं की भीड़ रैली के रूप में पुरानी कलेक्टोरेट की ओर रवाना हुई, इससे यातायात व्यवस्था ऐसी चरमराई कि एमएस रोड पर जाम लग गया। पुरानी कलेक्टोरेट का घेराव कर तहसीलदार अजय शर्मा को समस्त राजपूत क्षत्रिय समाज की ओर से ज्ञापन दिया, जिसमें ग्वालियर में लगी राजा मिहिर भोज की प्रतिमा के नाम से गुर्जर शब्द हटाने की मांग की गई। बिना ऐतिहासिक जानकारी के राजा मिहिर भोज को गुर्जर समाज का बताने वालों एवं इंटरनेट मीडिया पर क्षत्रिय समाज के खिलाफ आपत्तिजनक कमेंट करने वालों पर कार्रवाई की मांग की गई।

गुर्जर एकता के नारों के साथ हाइवे पर वाहनों में तोड़फोड़

क्षत्रिय समाज के युवाओं के प्रदर्शन के दौरान कुछ युवाओं ने बिजली कंपनी कार्यालय के बाहर गुर्जर समाज के लोगों द्वारा लगाई गई राजा मिहिर भोज की होर्डिंग को फाड़ दिया। इससे गुर्जर समाज में भी आक्रोश पनप गया। कृषि मण्डी से लेकर जीवाजीगंज तक 20 से ज्यादा बाइक सवारों ने नारेबाजी करते हुए रैली निकाली, इसके बाद पुलिस ने चार बाइक व गुर्जर समाज के कुछ युवकों को पकड़ लिया। इस घटना के कुछ देर बाद करुआ गांव के पास हाईवे पर वाहनों की तोड़फोड़ हो गई। गुर्जर एकता के नारे लगाते हुए दर्जनों युवाओं ने पथराव व लाठियां बरसाते हुए बसों से लेकर ट्रक व अन्य वाहनों के शीशे फोड़ दिए। इस तोड़फोड़ का एक वीडिया इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया, उसके बाद पुलिस ने आरोपितों को चिन्हित कर कार्रवाई करना शुरू किया। उधर शाम 6 बजे गुर्जर समाज के कुछ वरिष्ठ लोग एसपी ऑफिस में ज्ञापन लेकर पहुंचे। इस दौरान यह लोग एसपी ऑफिस में भजन व रामधुन का गायन करने बैठ गए।

इनका कहना है

- सुबह क्षत्रिय समाज के युवाओं ने बिना सूचना के शहर में जाम व प्रदर्शन किया और इस दौरान कुछ होर्डिंग फाड़ दिए। इस मामले में कुछ लोग चिन्हित हुए हैं उन पर कार्रवाई कर रहे हैं। हाइवे पर करुआ गांव के पास जिन लड़कों ने हंगामा किया है, वह गुर्जर एकता के नारे लगा रहे थे। तीन चार लोग इसमें भी चिन्हित हुए हैं वह सभी गुर्जर समाज के हैं। दोनों पक्षों पर हम कार्रवाई कर रहे हैं।

डॉ. रायसिंह नरवरिया, एएसपी, मुरैना

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local