मुरैना। नईदुनिया प्रतिनिधि। स्वास्थ्य मेले का उद्घाटन करने आए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के काफिले की गाड़ियों के आगे एक परिवार के महिला, पुुरुष व बच्चों ने हंगामा कर दिया। एक युवक की हालत बिगड़ गई और गर्मी से बेहोश हो गया।

बेहोश युवक को गाड़ियों के आगे रखकर परिवार ने नवविवाहिता बेटी के अपहरण के आरोप लगाते हुए पोरसा पुलिस पर आरोपितों से मिली भगत व थाने में सुनवाई न करने का आरोप लगाया। एसपी आशुतोष बागरी आए तो महिलाओं ने कहा, तुम्हारी पुलिस पैसे खाकर बैठी है। लगभग 15 मिनट तक काफिला रुका रहा तब केंधीय मंत्री के आश्वासन के बाद हंगामा शांत हुआ।

सोमवार को सुबह साढ़े 10 बजे केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने जिला अस्पताल में दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का उद्घाटन करने पहुंचे थे, इसी दौरान पोरसा के धनेटा गांव के एक परिवार के 17-18 सदस्य नवीन अस्पताल के प्रवेश द्वार पर धरना देकर बैठ गए। इसी दौरान राजवीर खटीक नाम का युवक बेहोश हो गया। सुबह 11 बजे जैसे ही केंद्रीय मंत्री की गाड़ी व उनका काफिला रवाना हुआ तो धरना दे रहे परिवार ने हंगामा, नारेबाजी शुरू कर दी।

उनका कहना था कि धनेटा गांव के राजवीर खटीक की 19 साल की नवविवाहिता बेटी ससुराल से पहली बार मायके आई तो 10 मई को गांव का गोलू पुत्र राकेश तोमर उसका अपहरण करके ले गया, पुलिस इस मामले में सुनवाई नहीं कर रही है। केंद्रीय मंत्री ने पीड़ित परिवार को उचित कार्रवाई का भरोसा दिया एसपी ने भी कहा कि लोकेशन मिल गई है। जल्द ही उन्हें ढूंढकर ले आएंगे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close