नरसिंहपुर। जिस समय पुलिस कंट्रोल रूम में कप्तान सभी थाना प्रभारियों के साथ क्राइम मीटिंग में अपराधों की समीक्षा कर रहे थे, उसी समय स्टेशन गंज में एक युवक ने अपने आपको पुलिस बतलाकर रौब झाड़ते हुए बैंक से निकले एक बुजुर्ग की तलाशी ली और स्मैक रखे होने के बहाने बैग टटोला और पलक झपकते ही 1 लाख रुपए हड़प लिए। जिले की लचर व्यवस्था में चोर-उचक्कों को पुलिस का खौफ नहीं है।

यहां स्टेशन के सामने बैंक से पैसे निकालकर भुगतान करने जा रहे एक बुजुर्ग को एक कथित पुलिसकर्मी ने रोका, कहा कि आप स्मैक लेकर जा रहे हैं, थैला चैक कराएं। थैले में देखा कि पैसे हैं तो पलक झपकते ही 3 लाख में से एक लाख गायब कर दिए।

यह घटना स्टेशनगंज थाने के अंतर्गत यूनियन बैंक की है। सिंहपुर निवासी रामेश्वर चौकसे अपनी पत्नी के साथ बैंक आए थे, लगभग 3 बजे का वक्त था। उन्होंने बैंक से 3 लाख रुपए निकाले और अपनी पत्नी को बैंक में ही यह कहकर बैठने को कह दिया कि वह गोपालदाल में भुगतान देकर अभी आ रहे हैं। वह निकले ही थे कि रास्ते में एक युवक मिला, जिसने अपने आप को उनसे पुलिसकर्मी बताया और कहा कि आप स्मैक लेकर जा रहे हैं, चैक कराईए, मैं पुलिसवाला हूॅं। वृद्घ ने सहजता से अपना बैग बताया, तलाशी दी।

इसी दरम्यान उस युवक के सामने से एक और लड़का गुजरता है, उसे भी रोका और यह दिखावा किया कि कहीं स्मैक लेकर तो नहीं जा रहा है, उसका भी बैग-थैला चैक किया, उसमें 10-10 की कुछ गड्डियां दिखीं। इसी दरम्यान जब तक वृद्घ की नजर उस बुलाए गए युवक पर पड़तीं, चतुराई से बिना समय गवाएं उस कथित पुलिसकर्मी ने 3 लाख रुपए में से 1 लाख की गड्डी गायब कर उस युवक के बैग में डाल दी, जिसे कथित पुलिसकर्मी ने आवाज देकर रोका था। कथित पुलिसकर्मी ने वृद्घ रामेश्वर चौकसे को यह सलाह भी दी कि इस तरह पैसे लेकर मत घूमा करो, हम तो पुलिस वाले हैं, दूसरा छोड़ता नहीं।

जब अपने हाथ में थैला लेकर रामेश्वर चौकसे गोपालदाल मिल आए तो उन्होंने मिल मालिक से कहा कि आज तो सादे कपड़ों में पुलिस चैकिंग कर रही है। लेकिन जब भुगतान के लिए पैसे दिए तो पता चला कि उनके पास 3 लाख में से सिर्फ 2 लाख हैं, एक लाख गायब हो चुके हैं।

अपने को ठगा महसूस कर चुके वृद्घ रामेश्वर चौकसे ने स्टेशन गंज में अपनी समस्या बताई, लेकिन पुलिस ने उनसे आवेदन लिया। रात 9 बजे तक वह अपने परिचित परिजन उपेन्द्र महाजन के साथ पुलिस कंट्रोल रूम में सीसीटीव्ही कैमरे में शिनाख्त करने की कोशिश कर रहे थे।

Flood in Chambal : यहां खतरे के निशान से 5 मीटर ऊपर बह रही चंबल, 86 गांवों में अब भी भरा पानी

MP Honey Trap Case : NGO की आड़ में पैसे वालों को फंसाती थी श्वेता, चुनाव लड़ने का था सपना