नरसिंहपुर। सुआतला थाना के ग्राम बंधी पिठहरा निवासी परमलाल लड़िया की कथित हत्या के मामले में अब पुलिस को उसका शव नहीं मिल सका है। वहीं अब पुलिस अभिरक्षा में हत्या के आरोपित नारायण लड़िया की मौत ने पुलिस को संकट में ला दिया है। रविवार को सतधारा के पास नर्मदा में एक महिला का शव मिलने से पुलिस की एक टीम इस मामले में मर्ग पंचनामा की कार्रवाई करने में व्यस्त रही।

बरमान चौकी के ग्राम चांवरपाठा में बीते रविवार की रात हुए सनसनीखेज घटनाक्र्रम में पुलिस को अब तक कथित मृतक परमलाल का शव नहीं मिला है। पुलिस कई दिनों से अब तक नारायण के बताए अनुसार उसका शव नर्मदा में तलाश करने में जुटी थी। लेकिन पुलिस अभिरक्षा में ही नारायण की मौत होने से पुलिस की उम्मीदे मृतक के पिता अमर सिंह पर टिकी हैं कि वही घटना के पूरे रहस्य से पर्दा हटाएगा। रविवार को एक तरफ परमलाल के शव की पतासाजी के लिए पुलिस परेशान रही। वहीं नारायण की मौत की खबर ने कर्मचारियों को नई परेशानी में डाल दिया। दोपहर में ही यह जानकारी सामने आ गई कि सतधारा में भी नर्मदा में एक महिला का शव देखा गया है। पुलिस के अनुसार मृतका करीब 30-32 वर्ष की है और उसका रंग गोरा है, सीने से नाभि तक का हिस्सा सिला हुआ है जिससे प्रथम दृष्टया जांच में प्रतीत हो रहा है कि उसका पोस्टमार्टम कर शव बहाया गया होगा। महिला का शव एक हरी चादर में लिपटा हुआ था और उसके सिर के पास गेहूं भी बंधा था जिससे पुलिस का अनुमान पुष्ट हो रहा है कि मौत होने के बाद ही शव नर्मदा में बहाया गया। फिर भी मामले में पुलिस ने मर्ग पंचनामा की कार्रवाई कर शव का पोस्टमार्टम कराने कार्रवाई की है।

भौंरझिर के युवक की बोरास घाट में मिली लाश

नरसिंहपुर। सिहोरा चौकी क्षेत्र के ग्राम भौंरझिर से बीती 29 जुलाई को गायब हुए एक युवक की लाश उदयपुरा थाना के तहत आने वाले बोरास घाट में मिली। जिसकी सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस ने शव की शिनाख्ती के लिए कार्रवाई कराई।

सिहोरा चौकी प्रभारी ने बताया कि भौंरझिर निवासी विकेश पिता हरिसिंह प्रजापति 28 वर्ष बीती 29 जुलाई को गायब हुआ था जिसके कपड़े नर्मदा के मगरहा घाट पर मिले थे। परिजनों ने 1 अगस्त को ही मामले में गुमशुदी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिन्होंने बताया था कि विकेश वर्ष 2013 से मानसिक रुप से स्वस्थ्य नहंी था और उसका इलाज चल रहा था। वह बिना बताए कहीं भी चला जाता था लेकिन रात को घर लौट आता था। लेकिन 29 जुलाई को वह घर से निकला था और लौटकर नहीं आया। जिसकी तलाश कई स्थानों पर की गई। मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर प्रकरण को जांच में लिया है। उदयपुरा थाना प्रभारी प्रकाश शर्मा ने बताया कि बोरास घाट में शव जिस स्थिति में मिला था उसमें मृतक के दोनों पैर बंधे हुए थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan