करेली। नईदुनिया न्यूज

स्वच्छता भारत मिशन के अंतर्गत देश को साफ-स्वच्छ बनाने का सपना सरकार ने संजोया है, इस मिशन का कुछ असर शहरी क्षेत्र में तो दिखाई पड़ता है, परंतु ग्रामीणों अंचलों में अभी भी इस मिशन के तहत लोगों में जागरूकता लानी अभी बाकी है। ग्रामीण अंचलों में जहां लोगों में जागरूकता की कमी है, वहीं साफ-सफाई के लिए ग्राम पंचायतों में संसाधनों की बेहद कमी भी है। अगर शासन-प्रशासन ग्रामों में सफाई संसाधनों की कमी को दूर करे, तो ग्रामों को भी स्वच्छ बनाया जा सकता है।

सड़क पर बह रहा निस्तारी पानी

वर्तमान में इस मिशन के तहत ग्रामों में साफ-सुथरा बनाने और ग्रामों में स्वच्छता के प्रचार के लिए करोड़ो रुपए खर्च किये हैं, परंतु क्षेत्र के ग्रामों की हालत देखकर ऐसा लगता है कि इसका असर जमीनी स्तर पर हुआ ही नहीं है। क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों में निस्तारी पानी के निकासी के लिए नाली निर्माण नहीं कराया गया है, जिसके कारण लोगों के घरों से निकलने वाला निस्तारी पानी सड़क पर बह रहा है और जिन गांवों में नाली निर्माण कराया गया है, वहां पर नाली की सफाई नहीं कराई जाती है, जिससे कारण नालियां गंदगी से अटी पड़ी हुई है।

पंचायतों में नहीं सफाई कर्मचारी

आसपास के ग्रामों में पंचायत के पास सफाई कर्मियों और संसाधनों की कमी के करण ग्राम की सफाई व्यवस्था बद से बदतर हो चली है। ग्राम सचिवों का कहना है कि स्वच्छता मिशन जब से शुरू हुआ है। तब से पंच परमेश्वर की राशि का एक प्रतिशत हिस्सा ही सफाई के लिए मिलता है। जो ऊंट के मुंह में जीरे के समान है, अगर शासन द्वारा सफाई के लिए स्थाई मद आंवटित किया जाएं व ग्राम में स्थाई सफाई कर्मियों की नियुक्ति हो तो ग्रामों में सफाई की स्थिति सुधर सकती है। वर्तमान समय में ग्रामों में सफाई के लिए सफाई कर्मियों को लाना बड़ा टेढ़ी खीर है। स्वच्छत भारत मिशन का अगर सपना पूरा करना है तो इस ओर शासन-प्रशासन दोनों को गंभीरता से विचार करना चाहिए।

शिकायत के बाद नहीं होती सफाई

ग्रामीणों में अशोक, इमरान, संतोष, प्रकाश का कहना है कि गांव की नालियों की नियमित सफाई नहीं होती है, जिसके कारण इनमें गंदगी अटी पड़ी हुई है। जिससे कारण से इनका ही गंदा पानी गांव की सड़कों पर बहता है, पंचायत से इसके बारे में कई बार कह चुके हैं, परंतु सुधार होता दिखता नहीं है। इस तरह की गंदगी से गांव का वातावरण खराब होता है, और पानी जगह-जगह पानी जमा होने से मच्छर, मक्खियों का प्रकोप बढ़ जाता है, जिससे संक्रामित बीमारी फैलाने का खतरा बना रहता है।

ग्रामों में कचरे घर की कमी

ग्रामों में सफाई व्यवस्था दुरूस्त न होने की वजह का पता लगाया तो ग्राम की महिलाओं में राधिका, शीतल, मनोरमा, सुदामा बाई का कहना है, कि गांव में कचरा फेंकने के लिए जगह नहीं होने पंचायत द्वारा कोई स्थान निश्चित नहीं किया गया है, इसलिए घरों की सफाई करने के बाद निकलने वाले कचरे को खाली जगहों पर कचरा फेंकना पड़ता है। इस कारण गांव में जगह-जगह कचरे के ढेर लगे रहते है। शासन द्वारा कचरे फेंकने के लिए कचराघर नहीं बनाने के कारण ही खाली जगह पर कचरे को फेंका जाता है, क्योंकि घरों की सफाई के बाद निकलने वाले कचरे को घर में भी नहीं रख सकते हैं।

मातारानी के दरबार पहुंच रहे भक्त

9फोटो6 करेली। मातारानी का किया अनुपम श्रंगार।

9फोटो8 करेली। आरती में शामिल भक्त।

दुर्गा जी का पांचवा अवतार-स्कंदमाता।

करेली। नईदुनिया न्यूज

नवरात्र के पांचवे दिन मां दुर्गा के पांचवे स्वरुप भगवान स्कन्द की माता अर्थात मां स्कंदमाता की उपासना की जाती है। कुमार कार्तिकेय को ही भगवान स्कन्द के नाम से जाना जाता है।

स्कंदमाता का स्वरूप

स्कंदमाता की चार भुजाएं हैं जिनमें से माता ने अपने दो हाथों में कमल का फूल पकड़ा हुआ है। उनकी एक भुजा ऊपर की ओर उठी हुई है जिससे वह भक्तों को आशीर्वाद देती हैं तथा एक हाथ से उन्होंने गोद में बैठे अपने पुत्र स्कंद को पकड़ा हुआ है। इनका वाहन सिंह है।

दुर्गा जी का ममता स्वरूप है स्कंदमाता

कार्तिकेय को देवताओं का सेनापति मना जाता है तथा माता को अपने पुत्र स्कंद से अत्यधिक प्रेम है। जब धरती पर राक्षसों का अत्याचार बढ़ता है माता अपने भक्तों की रक्षा करने के लिए सिंह पर सवार होकर दुष्टों का नाश करती हैं। स्कंदमाता को अपना नाम अपने पुत्र के साथ जोड़ना बहुत अच्छा लगता है। इसलिए इन्हें स्नेह और ममता की देवी माना जाता है।

नगर के दुर्गा मंदिरों में लोगों ने की आराधना

चैत्र नवरात्रि की चौथ को नगर के निरंजन वार्ड स्थित शारदा मंदिर में सुबह से ही मां के भक्तों का तता लगा रहता है। और भक्तों की भीड़ दिन प्रतिदिन निरंतर बढ़ती जा रही है। इस शारदा मंदिर के आसपास के रहवासी व वार्डवासी ही इसकी देखरेख में निरंतर पूरी श्रद्धा भाव से जुटे रहते हैं। यहां आए दिन महिला मंडल कार्यक्रम संगीतमय भजनों का कार्यक्रम किए जाते हैं। इसके साथ नगर के सभी मातारानी के मंदिर में सुबह से ही लोगों की भीड़ जलार्पण करने एवं पूजा अर्चन करने पहुंच रहे हैं। इसके साथ ही देवी मंदिरों में शाम के समय होने वाली आरती में बड़ी संख्या में मातारानी के भक्त पहुंच रहे हैं। नगर के सिद्धपीठ हर्रई माता मंदिर में शाम की आरती के समय भक्तों की भारी भीड़ लग जाती है। भक्तों का कहना है कि हर्रई माता मंदिर में आकर उन्हें एक अद्भुत शांति का एहसास होता है, साथ ही मातारानी हमारे सारे कष्टों को दूर कर मनवांछित फल देनी वाली है। सिद्धपीठ हर्रई माता के विषय में यह प्रसिद्ध है कि यहां विराजी बीजासेन माता बहुत जल्द ही भक्तों की पूजन-अर्चन के प्रसन्न हो जाती हैं, और भक्तों के दुखों को दूर करती है, इसलिए नगर के भक्तजन मातारानी की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं।

सेन समाज की बैठक 11 को

करेली। सेन जयंती मनाने जाने एवं कार्यक्रम रूपरेखा के उपलक्ष में सेन समाज संगठन के अध्यक्ष द्वारा समाज के सभी सेन बन्धुओं से तथा संगठन के सभी पदाधिकारियों से 11 अप्रेल को दोपहर 3ः30 बजे सेन सामुदायिक भवन मे बैठक का आयोजन किया गया है। सेन समाज के अध्यक्ष द्वारा सभी सेन समाज के बंधुओं से बैठक में अधिक से अधिक संख्या में उपस्थिति की अपील की गई है।

प्रभु भक्तों के भाव के भूखे

9फोटो12 करेली। भागवत कथा सुनाते महाराजश्री।

करेली। नईदुनिया न्यूज

भागवत कथा की कलश यात्रा में जो भी एक कदम नंगे पैर चलता है उसे एक अश्व यज्ञ करने का फल प्राप्त होता है पशु घास के भूखे होते हैं मनुष्य अनाज के भूखे होते हैं स्वर्ग के देवी देवता मान सम्मान के भूखे रहते हैं, हमारे बांके बिहारी भक्तों के भाव के भूखे होते हैं। उक्त उद्गार ग्राम अम्हेटा में वृंदावन से पधारे बाल संत शैलेंद्र कृष्ण ने कथा के दूसरे दिन ग्रामीणों के बीच व्यक्त किए। कथा श्रवण करने के लिए ग्राम सहित आसपास के ग्रामों से बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच रहे हैं।

वार्षिक परीक्षा परिणाम घोषित

9फोटो13 करेली। प्रतिभावन बच्चों के साथ परिजन।

करेली। नईदुनिया न्यूज

बीएसएल पब्लिक स्कूल करेली में शुक्रवार को वार्षिक परीक्षा परिणाम घोषित किया गया। जिसमें पालक एवं छात्र-छात्राओं की शत प्रतिशत उपस्थिति रही। संचालक चेतन लुनावत एवं प्राचार्य जीके वर्मा के द्वारा परिणाम घोषित किए गए। कक्षाओं में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को विद्यालय के संचालक एवं प्राचार्य के द्वारा शुभकामनाएं दी गईं एवं उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर विद्यालय में सेल्फी सेंटर बनाया गया जिसके माध्यम से सभी उत्कृष्ट छात्र-छात्राओं जिन्होंने कक्षा में पहला दूसरा एवं तीसरा स्थान प्राप्त किया। उनकी उनके पालकों के साथ सेल्फी ली गई जिसका सभी पालकों एवं छात्र-छात्राओं ने भरपूर आनंद लिया।

खजांची स्कूल का वार्षिक परीक्षा परिणाम घोषित

9फोटो16 करेली। बच्चों को पुरस्कार देते हुये अतिथि

करेली। नईदुनिया न्यूज

नगर के खजांची रामकली बाई स्कूल का सत्र 2018-19 का वार्षिक परीक्षा परिणाम आदर्श शिक्षण समिति के कार्यवाहक अध्यक्ष कमलेश सोनी की अध्यक्षता एवं आदर्श शिक्षण समिति के वरिष्ठ सदस्य मधुसूदन पालीवाल के मुख्य अतिथ्य में एवं पीसी जैन, हेमंत तिहैया, राजीव खजांची, प्रमोद तिवारी, अनिल पालीवाल, अमित छेड़ा के विशिष्ट आतिथ्य में शुक्रवार को घोषित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती पूजन एवं दीप प्रज्जवलन के साथ किया गया।

इसके उपरांत विद्यालय के वार्षिक परीक्षा परिणामों की घोषणा की गई जिसमें प्राथमिक विभाग में कक्षा पहली से श्रृष्टि श्रीवास प्रथम, प्रिंसी खरे द्वितीय तथा अंशिका सोनी तृतीय। कक्षा दूसरी से आदर्श विश्वकर्मा प्रथम, पूर्वा कौरव द्वितीय तथा परिधि नामदेव तृतीय कक्षा तीसरी से समीक्षा कौरव प्रथम, राधिका नेमा द्वितीय व नैतिक यादव तृतीय, कक्षा चौथी से अंशिका फौजदार प्रथम ,हिमांशी पटैल द्वितीय, सुरभि कौरव तृतीय, कक्षा पांचवी से आदित्य गुप्ता प्रथम, जितेन्द्र यादव द्वितीय व तेजस्वनी विश्वे व गीताजंली चंदोलिया तृतीय स्थान पर रहें। वही माध्यमिक विभाग में कक्षा छटवी से पार्थ सिसोदिया प्रथम, द्वितीय अदिती बैरागी व तृतीय प्रत्यांश दुबे कक्षा सातवी से प्रथम कुलदीप पचौरी, द्वितीय आतिश लोधी व तृतीय दुर्गेश साहू कक्षा आठवी से अनन्य दुबे प्रथम ,द्वितीय कंचन पटैल ,तृतीय सौम्या पटैल कक्षा नवमी में अनुष्का फौजदार प्रथम ,लकी लोधी द्वितीय व तृतीय कार्तिका शर्मा रही। वहीं उच्चतर विभाग में कक्षा 11वी विज्ञान संकाय से अंचल चौहान प्रथम, श्रेया नेमा द्वितीय व नैनसी तिवारी तृतीय 11वीं वाणिज्य संकाय से प्रथम दिशा शर्मा, द्वितीय सौम्या उदेनिया व निष्कर्ष जैन तृतीय स्थान पर रहे। इस अवसर पर विद्यालय प्रशासक एवं आदर्श शिक्षण समिति के कार्यवाहक अध्यक्ष श्री सोनी ने कहा कि पालक अपने बच्चों पर ध्यान दे जीवन की व्यस्ताओं में अपने बच्चों को अनदेखा न करे। मुख्य अतिथि श्री पालीवाल ने विद्यालय के उत्तरोत्तर विकास में पालकों एवं छात्रों के योगदान को सराहा। संचालन व्याख्याता नीतिश दुबे एवं अमन प्रजापति द्वारा किया गया तथा आभार प्रदर्शन वाणिज्य सकांय के व्याख्याता अनुराग सोनी द्वारा किया गया।

धड़धड़ाते निकल रहे ओवरलोड ऑटो

9फोटो17 करेली। नगर से गुजरता ओवरलोड ऑटो।

करेली। नईदुनिया न्यूज

नगर में ओवर लोड सवारी गाड़ी से आवागमन किया जा रहा है और ओवरलोडिंग के मामले में ऑटो भी पीछे नहीं है। नगर के विभिन्न मार्गों से गुजरने वाले ऑटो में ठूंस-ठूंस कर सवारियां भरी जाती है और परिवहन किया जाता है। परंतु प्रशासन द्वारा ओवरलोड वाहनों पर कभी कभार ही कार्रवाई की जाती है, जिसके कारण वाहन चालकों द्वारा बेधड़क ओवरलोड का परिवहन किया जा रहा है। नागरिकों का कहना है कि यदि प्रशासन लगातार ओवरलोड वाहनों पर कार्रवाई करे। नगर में चलने वाले ओवरलोड वाहनों पर रोक लगेगी। परंतु प्रशासन की उदासीनता के करण वाहन चालक अपनी मनमर्जी पर उतारू है और बेरोकरोक ओवरलोड सवारियां ढोई जा रही हैं।

रासेयो ने लगाए जलपात्र

9फोटो18 करेली। जलपात्र लगाते हुये महाविद्यालय के प्राचार्य

करेली। नईदुनिया न्यूज

इस भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों की प्यास को बुझाने के लिए महात्मा गांधी स्नातकोत्तर महाविद्यालय की रासेयो इकाई पेड़-पौधों पर जलपात्र लगाए गए। इन जलपात्रों पर रासेयो के स्वयंसेवकों द्वारा रोज नियमित रूप से जल भरा जाएगा। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. आरके आचार्य एवं रासेयो जिला संगठक डॉ. यूएस परमार के द्वारा इन जलपात्रों को पौधो पर लटकाया गया। कार्यक्रम में डॉ.एके अग्रवाल, डॉ.एके बाजपेयी, डॉ. पीके खरे, डॉ.पीएन वर्मा, डॉ.जीएन मिश्रा, प्रो. एसके ब्यौहार, सहायक प्राध्यापक सृजनेश सिलाकारी, टीएस राजपूत, डॉ. संजीव चौबे, प्रदीप दुबे, डॉ. पंकज नेमा, सुश्री रानू ठाकुर सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

मुफ्त गैस कनेक्शन के नाम पर ठगी

करेली। नईदुनिया न्यूज

नगर के शास्त्री वार्ड में उज्जावला योजना के तहत फ्री गैस कनेक्शन दिलाने के नाम पर गरीब परिवारों के साथ धोखाधड़ी करने का मामला प्रकाश में आया है। धोखाधड़ी की शिकार पीड़ित महिलाओं ने गत दिवस करेली थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज कराने आवेदन दिया। पीड़ित महिलाओं के मुताबिक 6 से 8 माह पूर्व वार्ड में वसुंधरा गैस सर्विस एजेंसी नरसिंहपुर में कार्यरत महिला सेल्समेन रंजना मैडम जो कि नरसिंहपुर में ही निवास करती है, द्वारा गरीब परिवारों को यह कहा गया कि शासन द्वारा गरीब वर्ग के लोगों को फ्री गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं, जिसको अपना नया फ्री गैस कनेक्शन लेना है, वह अपना रजिस्ट्रेशन करवा लें। गैस के फ्री कनेक्शन दिलवाने के लिए रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर गरीब महिलाओं से एवं प्रत्येक परिवार से 300-300 रुपए की वसूली की गई है। महिलाओं द्वारा बताया कि लगभग 6 से 8 माह हो चुके हैं, मगर अभी तक कोई फ्री कनेक्शन की योजना का लाभ हमें नहीं मिला है। महिलाओं का कहना है कि हमें फ्री कनेक्शन के नाम पर ठगा गया। हमसे आधार कार्ड की फोटोकॉपी भी ली गई थी। पीड़ित महिलाओं ने आवेदन में बताया है, कि उक्त महिला हर वार्ड एवं गांव-गांव में जाकर ठगी कर रही है। उक्त महिला को पकड़कर पैसे वापस कराए जाने की मांग की है। इस संबंध में करेली थाना प्रभारी नवल आर्य का कहना है कि कुछ महिलाओं के द्वारा धोखाधड़ी की शिकायत हेतु आवेदन दिया गया है, जिसमें बताया गया है कि वसुंधरा गैस एजेंसी नरसिंहपुर में कार्यरत महिला सेल्समेन रंजना मैडम के द्वारा फ्री गैस कनेक्शन के नाम पर 300-300 रुपए लिए गए हैं। आवेदन को जांच में लिया गया है, जांच में जो भी तथ्य आएंगे, उनके आधार पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।