करेली। नईदुनिया न्यूज

नवरात्रि पर्व की अष्टमी पर श्रद्धालुजनों ने मंदिरों एवं घरों में सुबह से ही विशेष पूजन, अर्चन विधि विधान से किया गया। हर्रई माता, खेरापति माता, मृत्युंजयी माता, शारदा माता, बंजारी माता, दुर्गा मंदिर पावर हाउस, बीजासेन माता मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालुजन जल अर्पित करन एवं पूजन करने के लिए पहुंचे। जिससे कि मंदिरों में कतार लगाकर श्रद्धालुजन जल अर्पित कर किया। पूरा नगर मां जगदम्बा की आराधना में भक्तिमय हो गया। मंदिरों में विशेष विद्युत सजावट की गई जो प्रत्येक दर्शन करने वाले धर्मालुजन को आकर्षित करती है। भक्तों द्वारा छोटी-छोटी कन्याओं का पूजन कर घर पर कन्याभोज कराया गया। प्रतिदिन आरती पूजन के समय नगर के बड़ी संख्या में धर्मप्रेमीजनों की उपस्थिति रहती है। 751 जवारे घट कलश और 101 अखंड ज्योति कलशों का किया पूजन

3फोटो13 करेली। जवारे स्थल पर स्थापित देवी की भव्य प्रतिमा।

13फोटो14 करेली। आरती में मौजूद बड़ी महिला-पुरुष।

करेली। नईदुनिया न्यूज

दिव्य पंचमी पर श्रीराम मंदिर स्थित सुमन भागवत मंच पर 751 जवारे घट कलश एवं 101 अखंड ज्योति कलशों के स्थापना स्थल पर मां को पूर्ण विधि विधान वैदिक मंत्रोच्चार के साथ चंदेवा चढ़ाया गया। नगर के प्रमुख देवस्थल श्रीराम मंदिर स्थित सुमन भागवत मंच पर की गई भव्य सामूहिक जवारे स्थापना के कार्यक्रम में प्रतिदिन विविध धर्म आयोजनों, पूजन अर्चन, माता की महाआरती से वातावरण धर्ममय है व श्रद्धालु संपूर्ण आस्था के साथ आदिशक्ति भवानी की आराधना कर रहे हैं।

मां को चढ़ा चंदेवा

प्रारंभ में विधि विधान से चंदेवा पूजन किया गया जिसके उपरांत माता को चंदेवा अर्पित किया गया। तत्पश्चात उपस्थित युवक आध्यात्म मंडल के सदस्यों व भक्तों, श्रद्धालुओं, माताओं बहनों ने आस्थापूर्वक मां दुर्गा की आरती की व जस गाए। प्रतिदिन के यजमानों के माध्यम से विधि विधान से पूजन अर्चन भी कराया जा रहा है। इस अवसर पर आचार्य शशिकांत शास्त्री, शिवनारायण दुबे, सत्यप्रकाश भारद्वाज, आत्माराम शर्मा, अरविंद स्वामी, रविन्द्र बिल्थरे, जितेन्द्र दुबे के द्वारा मुख्य यजमान जितेंद्र शर्मा, भारती शर्मा, मुख्य पंडा सुखलाल नेमा व अन्य उपस्थित पंडों डॉ. राजेश राज बहरे, बबलू शबनम के माध्यम से मां भवानी को चंदेवा चढ़वाया गया।

आज पहनाई जाएगी 101 कन्याओं को लौंग

रविवार को जवारे स्थापना स्थल पर शाम 7 बजे नगर की 101 कन्याओं का नासिका छेदन कराया जाएगा। नासिका छेदन सोने की लौंग से किया जाएगा। यह परपंरा विगत 5 साल से लगातार चली आ रही है। जहां इसमें बच्चियों का निसका छेदन संस्कार होता है, वहीं इसे करने वालों को नन्हीं कन्याओं का आशीष भी प्राप्त होता है।

17 को कन्या पूजन भंडारा

भव्य दरबार में पंचमी के दिन की महाआरती का वैभव निराला था और चंहुओर आस्था का आनंद बरस रहा था। वही महाआरती में अनेक धर्मानुरागी जनों, माताओं बहिनों ने सहभाग कर धर्मलाभ लिया। मंडल सदस्यों द्धारा प्रतिदिन देवी की भेंटे गाई जा रही हैं जिससे वातावरण धर्ममय है। युवक आध्यात्म मंडल, सार्वजनिक जवारे उत्सव समिति सनातनी मन्दिर समिति करेली के संयुक्त तत्वावधान में विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी यह आयोजन किया गया। 17 अप्रैल को हवन, कन्या पूजन व भंडारा किया जाएगा।

18 को जवारे शोभायात्रा

वही 18 अप्रैल गुरुवार को भव्य शोभायात्रा एवं जवारे विसर्जन मां की दिव्य प्रतिमा के साथ में एक प्रतिमा पालकी में विराजित हो भक्तों द्वारा नगर भ्रमण करेंगी। मंडल ने नगर के सभी धर्मानुरागी जनों, माताओं बहनों से प्रतिदिन रात्रि 8ः30 बजे से आयोजित महाआरती में उपस्थिति की अपील की है।