नरसिंहपुर। गाडरवारा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 2 पर एनटीपीसी पावर प्लांट के लिए आई कोयले की रैक खाली करने में लगे एक 19 वर्षीय श्रमिक की रेलवे की इलेक्ट्रिक लाइन का करंट लगने से मौत हो गई। मृतक श्रमिक अंकित पिता राकेश ठाकुर 19 वर्ष तेंदूखेड़ा थाना के ग्राम करौंदी निवासी है जो करीब 4 माह से यहां ठेकेदार के अधीन मजदूरी का कार्य कर रहा था। मामले की प्रथम दृष्टया जांच में जीआरपी पुलिस रेलवे और ठेकेदार की गलती मान रही है। पुलिस का कहना है कि रैक खाली करने के पहले इलेक्ट्रिक लाइन बंद करना होता है लेकिन बिना लाइन बंद कराए ही श्रमिक कार्य कर रहा था जिससे उसकी मौत हो गई।

गाडरवारा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 2 से एनटीपीसी पावर प्लांट के लिए कोयले की रैक आ रहीं है। जिसे खाली करने और प्लांट तक ले जाने के लिए बड़ी संख्या में मजदूर और वाहन लगे है। लेकिन इस दौरान मजदूरों की सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं है। सोमवार की रात भी कोयले की रैक खाली करने काफी मजदूर लगे थे।

जीआरपी एएसआई जेएल कोल ने बताया कि बोगी से इलेक्ट्रिक लाइन बंद नहीं थी और ठेकेदार के अंडर में कार्य करने वाला अंकित सब्बल लेकर रैक खाली करने ऊपर चढ़ा था जिसे करंट का झटका लगा तो उसकी मौत हो गई। मामले की जांच के बाद ही खुलासा होगा कि पूरे मामले में किसकी लापरवाही है।

बंद करना थी लाइन

रैक खाली करने के पहले लाइन बंद करना होता है। लेकिन लाइन चालू थी जिससे मजदूर को करंट लगा और उसकी मौत हुई। मामले में रेलवे और ठेकेदार से जानकारी ली जाएगी। अभी प्रकरण में मर्ग कायम कर जांच हो रही है। - बीपी पांडे, जीआरपी थाना प्रभारी गाडरवारा