नरसिंहपुर।

दिन भर ठीकठाक चला मौसम दोपहर के बाद इस तरह बदला कि अचानक कहीं तेज बारिश तो कहीं बूंदाबांदी शुरू हो गई। गुरूवार की सुबह से ही बरमान के जिस संक्रांति मेले में दोपहर तक 15 से 20 हजार लोगों की भीड़ रही, वहां शाम के वक्त जैसे ही तेज बारिश शुरू हुई तो मेला स्थल की प्रायः सभी दुकानें तिरपाल से ढक गईं। वहीं मेला घूमने, खरीदी करने आए लोग बारिश से बचने के लिए इधर-उधर भागे।

मौसम के कारण मेला स्थल पर बिजली की आपूर्ति भी करीब आधा घंटे तक बाधित रही। नरसिंहपुर, गोटेगांव, करेली, गाडरवारा, तेंदूखेड़ा क्षेत्र में भी हल्की बारिश ने परेशानियां बढ़ाईं।

लगातार खराब हो रहे मौसम के कारण किसानों, आमजनों को बारिश से राहत नहीं मिल पा रही है। पिछले तीन-चार दिनों से ठंड के कारण लोगों को राहत रही, लेकिन फिर अचानक मौसम बदलने के कारण ठंड का असर कायम रहने की उम्मीद बढ़ गई है। गुरूवार की दोपहर तक जहां लोगों को गर्मी का अहसास रहा। लेकिन शाम होते ही हल्की तेज बारिश की बूंदों ने एक बार फिर वातावरण में ठंडक बढ़ा दी। बारिश कई स्थानों पर इतनी जोरदार रही कि सड़कों पर पानी बह गया।

गुड़ बनाने का कार्य बाधितः अचानक हुई बारिश ने प्रारंभिक तौर पर ही गुड़ बनाने का कार्य बाधित कर दिया है। गुड़ उत्पादक किसानों का कहना है कि मौसम इसी तरह रहा तो भट्टियां चलाना मुश्किल हो जाएगा। जो गन्ना कटाई का कार्य चल रहा है, वह भी प्रभावित होगा। वहीं बारिश के कारण फूल पर और पककर तैयार हो रही तुअर की फसल में अधिक नुकसान की आशंका बनी है। किसानों ने बताया कि पहले की बारिश से ही तुअर को काफी नुकसान हो चुका है, अब फिर मौसम खराब होने के कारण तुअर की फल्लियां फूलकर नष्ट होंगी और कीटों का प्रकोप बढ़ेगा। उत्पादन प्रभावित होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket