नरसिंहपुर। मकर संक्रांति पर जिले के सभी नर्मदा तटों पर सुबह से शाम तक श्रद्घालुओं ने तिल के साथ पर्व स्नान किया और खिचड़ी, अनाज का दान किया। जिले के प्रमुख नर्मदा तट बरमान के सीढ़ीघाट, रेतघाट और सतधारा में एक लाख से अधिक श्रद्घालुओ के स्नान का अनुमान रहा। श्रद्घालुओं की भीड़ से बरमान मेला में देर रात तक भीड़ रही।

वहंी द्विपीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती ने स्नान मुर्हुत के अनुसार दोपहर 3 बजे सांकल गुरुगुफा के सामने स्थित शंकराचार्य घाट पर शिष्यों सहित स्नान किया। इसी तरह नर्मदा के महादेव पिपरिया, चिनकी उमरिया, झांसीघाट, ककरा, बिल्थारी, रामघाट, केसली, सोकलपुर, नीलकंठ घाट पर भी काफी लोग स्नान के लिए पहुंचे।

जिले में मकर संक्रांति पर्व पर जगह-जगह धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। सभी नर्मदा तटों पर सुबह से शाम तक लोगों के स्नान एवं आने जाने का क्रम बना रहा। बरमान में संक्रांति मेला एवं भगवान ब्रह्मा की तपोस्थली होने से स्नान करने के लिए सागर, दमोह, रायसेन, छिंदवाड़ा सहित जिले के विभिन्न स्थानों से श्रद्घालुओं के आने का सिलसिला एक दिन पहले से ही शुरू हो गया था। श्रद्घालुओं का टोलियां बंबुलियां गाते, भजन-संकीर्तन करते हुए पैदल, सरें भरते हुए एवं निजी वाहनों के जरिए यहां पहुंचीं। सागर जिले के ग्राम सेवन से करीब 800 ग्रामीणों का जत्था नर्मदा को 251 फीट की चुनरी और 22 किलो वजन का घंटा अर्पित करने पैदल यात्रा कर बरमान पहुंचा। टोली में शामिल हरिसिंह कुशवाहा ने बताया कि सभी की सुख शांति की कामना के साथ गांव से करीब 800 लोग जिसमें महिलाओं, पुरुषों, बच्चे शामिल हैं वह पैदल यात्रा कर चुनरी लेकर नर्मदाजी को अर्पित करने आए है।

नलजल योजना बंद होने से पानी को तरसे लोगः बरमान में पर्व स्नान के लिए जहां हजारों लोग स्नान के लिए पहुंचे वहीं स्थानीय नागरिक, व्यापारी पानी की समस्या से परेशान रहे। लोगों का कहना रहा कि नलजल योजना चालू नहीं होने से न तो घरों में पानी पहुंचा और न ही होटलों में पानी आया। ग्राम पंचायत द्वारा पेयजल व्यवस्था के लिए टेंकर भी नहीं लगाए गए। जिससे बाहर से आने वाले लोगों को पानी के लिए काफी परेशान होना पड़ा। व्यापारियों ने भी भीड़ के दौरान होटलों में पानी का इंतजाम करने इधर-उधर से इंतजाम किया और पानी का प्रबंध कर व्यवसाय किया। लोगों में पंचायत की कार्यप्रणाली को लेकर नाराजगी रही।

बाक्स

नर्मदा के लिंगा घाट में संक्रांति स्नान के लिए आई युवती डूबी

गाडरवारा थाना क्षेत्र में आने वाले नर्मदा के लिंगा घाट पर गुरुवार की सुबह स्वजनों के साथ संक्रांति स्नान के लिए आई एक 19 वर्षीय युवती नहाने के दौरान गहरे पानी में जाने से डूबकर लापता हो गई। जिससे घाट पर हड़कंप की स्थिति रही, घटना की सूचना लगने के बाद मौके पर पहुंची गाडरवारा पुलिस एवं स्थानीय तैराकों ने युवती की तलाश शुरू की। । लेकिन देर शाम तक युवती का कोई पता नहीं चल सका। घटना में बताया जाता है कि ग्राम भौंरझिर निवासी रमेश राठौर के परिवार से सभी सदस्य संक्रांति स्नान लिए लिंगा घाट पहुंचे थे जहां नहाने के दौरान उनकी 19 वर्षीय बेटी कृष्णा राठौर गहरे पानी में जाने से डूब गई। युवती के डूबने की खबर जैसे ही स्वजनों को लगी तो घाट पर नहा रहे लोगों के साथ युवती की तलाश शुरू हुई। पुलिस को भी सूचना दी गई लेकिन घंटो तलाशी के बाद भी डूबी युवती का कोई पता नहीं चल सका। स्थानीय लोगों का कहना है कि लिंगा घाट पर हर पर्व-त्योहार पर नर्मदा स्नान के लिए लोगों की भीड़ रहती है लेकिन यहां प्रशासन द्वारा पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध नहंी किए जाते। पिछले वर्ष भी मकर संक्रांति के दिन ही यहां एक भाई-बहन के डूबने की घटना हो चुकी है। नर्मदा में डूबी युवती की तलाशी के लिए पुलिस होमगार्ड के तैराक दल एवं स्थानीय लोगों की मदद से कार्रवाई कर रही है। घटना से राठौर परिवार भी सदमे हैं और घाट पर ही परिवार व गांव के लोग शाम तक बैठकर इंतजार करते रहे कि बेटी का जल्दी पता चल सके और वह सकुशल हो। लेकिन जब शाम गहराई और कुछ पता नहीं चला तो सभी निराश होकर लौटने लाचार रहे। गाडरवारा थाना प्रभारी अजय सनकत ने बताया कि युवती की तलाश करने 10 गोताखोरों की टीम लगी थी लेकिन उसका अभी पता नहीं चल सका है। शुक्रवार की सुबह फिर तलाशी अभियान चलाया जाएगा। जिस समय यह घटना हुई उस दौरान भी पुलिस घाट पर गोताखोरों के साथ तैनात थी। जिससे तत्काल उसकी तलाशी की गई लेकिन गहराई अधिक होने से डूबी युवती का पता नहीं चल सका।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस