नरसिंहपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में बारिश का दौर लगातार जारी है, गुरुवार को सुबह से शाम तक सभी पांच तहसीलों में जोरदार बारिश होती रही। बीते 24 घंटो के दौरान पांच तहसीलों में औसतन 31.4 मिमी बारिश दर्ज हो चुकी है। लंबे समय बाद हो रही अच्छी बारिश से जहां किसान खुश हैं वहीं कृषि विभाग ने आने वाले दिनों में यूरिया-डीएपी की बढ़ने वाली मांग को देखते हुए व्यवस्थाएं शुरू कर दी हैं। आज-कल में यूरिया एक रैक लगने की संभावना है वहीं आधी रैक डीएपी की आएगी। जिससे किसानों को जरुरत के समय यूरिया-डीएपी की कमी न रहे।

जिले भर में रुक-रूककर बारिश का सिलसिला लगातार जारी रहने से जनजीवन पर असर दिखने लगा है। बीते बुधवार की रात भी कई हिस्सो में जोरदार बारिश रही और गुरुवार को भी सुबह से देर शाम तक बारिश होती रही। मौसम के असर से जिले के नगरीय क्षेत्रों के बाजारों में रौनक गायब रही। जो लोग कामकाज के सिलसिल में घरों से बाहर निकले उन्हें भी छाता, रैनकोट के सहारे आवागमन करना पड़ा। जिले के तीन राष्ट्रीय राजमार्गो सहित स्टेट हाइवे और क्षेत्रीय सड़कों पर भी मौसम की वजह से वाहनों की आवाजाही और रफ्तार कम रही। ग्रामीण सड़कों पर तो इक्का-दुक्का वाहन ही दौड़ते नजर आए। वहीं किसान वर्ग भी अच्छी बारिश होने से फसलों की चिंता से बेफिक्र रहा। किसानों का कहना है कि बारिश जिस गति से हो रही है उससे फसलों को भी फायदा है और जमीन का जलस्तर भी बढ़ेगा। तेज बारिश से पानी व्यर्थ बह जाता है और जमीन उसे सोख नहीं पाती। लेकिन बारिश थमकर हो रही है तो यह पानी जमीन के लिए भी फायदेमंद है और फसलों को भी नुकसान नहीं होता है। नरसिंहपुर, गाडरवारा, करेली, तेंदूखेड़ा, गोटेगांव तहसील क्षेत्र में बारिश की स्थिति एक जैसी बनी हुई है। गन्ना,दलहन, मक्का, ज्वार, धान आदि फसलों के लिए यह बारिश काफी राहत दे रही है।

बारिश थमेगी तो बढ़ेगी मांगः उपसंचालक कृषि राजेश त्रिपाठी कहते हैं कि अभी जो बारिश हो रही है वह सभी फसलों के लिए बेहद फायदेमंद है। पूर्व में पानी की कमी से जो फसलें प्रभावित थीं उन्हें इस बारिश से जीवनदान मिल गया है। अब बारिश थमेगी तो किसानों के लिए यूरिया-डीएपी की जरुरत बढ़ेगी। इसलिए अभी से यूरिया-डीएपी की व्यवस्था की जा रही है। शीघ्र ही यूरिया की एक रैक और डीएपी की आधी रैक लगना है। अभी स्टाक में करीब 2 हजार टन यूरिया और लगभग 1800 टन डीएपी उपलब्ध है। किसानों को समय पर यूरिया-डीएपी उपलब्ध कराया जाएगा ताकि वह समय पर उसका उपयोग कर सकें।

बाक्स

जिले में अब तक 420 मिमी वर्षा दर्ज

जिले में एक जून से गुरुवार 22 जुलाई तक की अवधि में औसत रूप से कुल 420.8 मिमी अर्थात 16.5 इंच वर्षा दर्ज की गई। गुरुवार की सुबह तक बीते 24 घंटे की अवधि में जिले में औसतन 31.4 मिमी वर्षा हुई। जिसमें तहसील नरसिंहपुर में 29 मिमी, करेली में 27 मिमी, गाडरवारा में 35 मिमी, गोटेगांव में 15 मिमी और तेंदूखेड़ा में 51 मिमी वर्षा आंकी गई है। जिले की सामान्य वर्षा 1139 मिमी से 1170 मिमी तक है। अधीक्षक भू-अभिलेख के अनुसार गुरुवार 22 जुलाई तक तहसील नरसिंहपुर में 403 मिमी, करेली में 389, गाडरवारा में 442 मिमी, गोटेगांव में 283 मिमी और तेन्दूखेड़ा में 587 मिमी वर्षा आंकी गई। इसी अवधि में पिछले वर्ष जिले में औसतन 312.6 मिमी अर्थात 12.3 इंच वर्षा हुई थी। इस अवधि में पिछले वर्ष तहसील नरसिंहपुर में 302 मिमी, करेली में 284, गाडरवारा में 493 मिमी, गोटेगांव में 207 मिमी और तेंदूखेड़ा में 277 मिमी वर्षा हुई थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags