गोटेगांव (नईदुनिया न्यूज)। नगर में करीब तीन दर्जन स्थानों पर देवी प्रतिमाओं की स्थापना की गई थी। जिसमें बीते दिनों तक विसर्जन महज 5-6 प्रतिमाओं का हो सका था। रविवार को सुबह से ही देवी प्रतिमाओं के विसर्जन का क्रम चला। जिससे सुबह से शाम तक श्रद्घालुओं की भीड़ रही।

नगर के बजरंग वार्ड में विराजित माता महाकाली की प्रतिमा का विसर्जन धूमधाम से किया गया। इसी तरह पुत्रीशाला, रेलवे स्टेशन, एमपीइबी कार्यालय के पास विराजित देवी प्रतिमा के विसर्जन कार्यक्रम में श्रद्घालुओं की काफी भीड़ रही। झांसीघाट व मुआर में कुंड न बनाए जाने से यहां प्रतिमाओं का विसर्जन नर्मदा में किया गया।

उत्साह के आगे बिगड़े मौसम का असर फीकाः नगर में बीते शनिवार की रात भी देवी प्रतिमाओं के विसर्जन का दौर चलता रहा। माताजी की अंतिम विदाई में दर्शन के लिए लोगों ने घरों से निकलकर नारियल फूल अर्पित किए, दीपक जलाए। श्रीधाम का राजा दुर्गा उत्सव समिति नया बस स्टेंड पर हवन-पूजन कन्याभोज के बाद प्रतिमा को विसर्जन के लिए निकाला गया। समिति के सभी सदस्य, वरिष्ठ दुर्गा प्रतिमा को विसर्जन स्थल बगतला ले गए। शासन के सभी नियमों का पालन करते हुए प्रतिमा का विसर्जन किया गया। इस मौके पर समिति अध्यक्ष प्रहलाद मोहन सिंह पटेल, पार्षद गीताशरण विश्वकर्मा, धनसिंह विश्वकर्मा, कमल पटेल, गोविंद पटेल, कपिल पटेल, चंदन ताम्रकार, अशोक पटेल आदि की उपस्थिति रही।

नागरिकों ने कहा ठीक से नहीं किया गया कुंड निर्माणःनगर से लगे बगतला में दुर्गा प्रतिमाओं के लिए बनाए गए कुंड में शहरी क्षेत्र की प्रतिमाओं का सुरक्षा प्रबंध के साथ विसर्जन कराया गया। वहीं क्षेत्र की बड़ी देवी प्रतिमाओं को नर्मदा के मुआर एवं झांसीघाट ले जाकर विसर्जित किया गया। बताया जाता है कि बगतला में पानी न होने से यहां नगर पालिका ने करीब 20 फीट गहरे कुंड का निर्माण कर बोरवेल से पानी भरा। पास में लकड़ी का मंच बनाया जिसके जरिए प्रतिमाओं को कुंड में विर्सजित करने के लिए कर्मचारियों को नियुक्त किया। लेकिन कई समितियों के सदस्य बड़ी प्रतिमाओं को कुंड में विसर्जित करने के लिए नहीं लाए। सीएमओ-उपयंत्री के अवकाश पर रहने से नपा के चंदन सिंह की निगरानी में नगर पालिका के अमले द्वारा प्रतिमाओं के विसर्जन का कार्य कराया गया।

देवी प्रतिमाओं का पूजनः पूर्व विस अध्यक्ष एवं विधायक एनपी प्रजापति ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ गोटेगांव, श्रीनगर, बरहटा, बगासपुर,श्यामनगर के सभी देवी पांडाल में जाकर देवी प्रतिमाओं का दर्शन किया। उनके साथ द्वारका राजपूत, सत्यनारायण तिवारी, नरेश विलवार, सरदार सिंह राजपूत, देवी महंत, लक्ष्मीनारायण तिवारी,अमित तिवारी, मीनू राजपूत, प्रेमशंकर पटेल, दीपक नेमा, बबलू राजपूत, विवेक नामदेव, दीपक राय आदि की मौजूदगी रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local