नरसिंहपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में यूरिया और डीएपी की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ अब एफआइआर होगी। साथ ही मिलावटखोरों पर भी कार्रवाई की जाएगी।कलेक्ट्रेट में बीते सोमवार को हुई समयसीमा बैठक में यह निर्देश कलेक्टर रोहित सिंह ने अधिकारियों को दिए हैं।जिसमें उन्होंने अवैध खनन रोकने, अवैध शराब की बिक्री पर सख्ती बरतने, चरनोई भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देशित किया।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि पात्र व्यक्ति को शासन की योजना का लाभ मिलने में कोई परेशानी नहीं होना चाहिए। योजनाओं का लाभ लोगों को तत्परता से दिलाएं।कलेक्टर द्वारा सेंड द पिक पोर्टल लांच कर कहा कि सेंड द पिक कैम्पेन में आने वाली शिकायतों के निराकरण में देरी नहीं होना चाहिए। राजस्व न्यायालयवार समीक्षा में उन्होंने 235 लंबित राजस्व प्रकरणों का एक दिन में निराकरण करने पर राजस्व अधिकारियों को सराहा। निर्देश दिए कि चरनोई भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया जाए। इसके लिए गंभीरता से कार्रवाई करें। राजस्व न्यायालयों का भी औचक निरीक्षण होगा। अधिकारी बगैर अनुमति से मुख्यालय नहीं छोड़े। उन्होंने हल्के में पदस्थ सबइंजीनियर, आरआई, पटवारी, ग्राम पंचायत सचिव की जानकारी प्रस्तुत करने पर जोर दिया। इसके अलावा सभी एसडीएम एवं सीएमओ राजस्व वसूली, जल कर, सम्पत्ति कर आदि की वसूली सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिले में अवैध खनन एवं अवैध शराब की बिक्री पर सख्त कार्रवाई की जाए। स्वीकृत खदानों के सीमांकन के शेष कार्य को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए।

अधिकारियो पर लगा जुर्मानाः कलेक्टर ने कहा कि होर्डिंग्स, बैनर एवं पोस्टर से सड़कों पर आवागमन बाधित नहीं हो। सभी सीएमओ सुनिश्चित करें कि सड़क के डिवाईडरों की पुताई हो और रिफ्लेक्टर लगाए जाएं। डिवाईडर के बीच में सफाई कराकर पौधे लगाएं। सीएमओ गाडरवारा को निर्देशित किया कि नगर में समुचित साफ- सफाई सुनिश्चित की जाए। नगरीय निकायों में निकाय से संबंधित दुकानों के किराये की वसूली की जाए। बैठक में सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण की समीक्षा की गई। बैठक में बताया गया कि सितंबर माह में शिकायत अटेंड नहीं करने पर संबंधित अधिकारियों पर 63 हजार 600 रुपये का जुर्माना लगाया गया। यह राशि रेडक्रास में जमा होगी। शिकायतों के निराकरण में प्रगति लाने से जिले की रैंक 47 से 7 पर आ गई है। कलेक्टर ने कहा कि शिकायत अटेंड जरूर करें। शिकायतों के निराकरण की व्यवस्था में सुधार करना हमारी मंशा है। हम नहीं चाहते कि जुर्माना लगाया जाए। कलेक्टर ने जिले के निकायो में अभियान चलाकर एक सप्ताह में आयुष्मान कार्ड बनाने के निर्देश दिए। बैठक में सीईओ जिला पंचायत डॉ. सौरभ संजय सोनवणे, सहायक कलेक्टर डॉ. नागार्जुन बी. गौड़ा, अपर कलेक्टर मनोज ठाकुर, सभी एसडीएम, सीएमओ, सीईओ जनपद सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local