गोटेगांव (नईदुनिया न्यूज)। यात्रियों को सुविधा देने श्रीधाम रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 3 में बने शौचालय में 5 वर्ष से ताला लटका है। वहीं प्लेटफार्मो पर काटे गए पेड़ों की लकड़ियों के ढेर लगे हैं। हर तरफ गंदगी फैली है जिससे यात्री हर दिन परेशान हो रहे हैं।

रेलवे की उदासीनता के कारण श्रीधाम रेलवे स्टेशन पर अव्यवस्थाएं हावी हैं। यहां स्वच्छता मजाक बनी है, हर तरफ कचरा-गंदगी फैली है। एक मात्र शौचालय की सफाई भी नियमित नहीं होती है जिससे यह भी गंदगी से भरा है। सबसे बड़ी विसंगति और रेलवे की उदासीनता की बानगी यह है कि प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर बने एक शौचालय का लाभ यात्रियों को नहीं मिल रहा है उसमें रेलवे ने ताला लगा रखा है।जिससे प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर ट्रेनों का इंतजार करने वाले यात्रियों को सुविधा के लिए प्लेटफार्म क्रमांक पर आना पड़ता है। कई बार यात्री जल्दबाजी में रेलवे लाइन सीधे पार करते हैं जिससे उनके लिए जोखिम बना रहता है।

प्लेटफार्म एक पर शेड नहीं: स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक एक पर शेड नहीं है। प्लेटफार्म क्रमांक 2 व 3 में छोटे शेड है। जिससे वर्षा के समय यात्रियों को छाता लगाकर ट्रेनों का इंतजार करना पड़ता है।यहां लगे शेड काफी पुराने हो चुके हैं जिनसे भी पानी टपकता है। लेकिन रेलवे ने मौसम को देखते हुए कोई सुधार कार्य नहीं कराया है।

काटकर बेचे जा रहे पेड़ः स्टेशन पर लगे पेड़ो की कटाई का कार्य पीआइयू द्वारा कराया जा रहा है। जिससे प्लेटफार्म पर हर तरफ काटे गए पेड़ो की लकड़ियों का ढेर लगा है। यहीं से लकड़ी की बिक्री हो रही है। लेकिन इसका कोई हिसाब नहीं रखा जा रहा है। इन पेड़ों की कटाई के कार्य को कितनी राशि में नीलाम किया गया है इसकी जानकारी भी रेलवे द्वारा आम नहीं की जा सकी है।पानी की टंकियों के आसपास भी लकड़ी के ढेर लगे हैं जिससे यात्रियों को पानी पीने के दौरान परेशानी बनी है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close