बांगरेड में श्रीमद् भागवत ज्ञान गंगा प्रवाहित

नीमच। भगवान प्रेम भाव के भूखे होते हैं धन-संपत्ति के नहीं श्रीकृष्ण ने दुर्योधन के मेवे के बजाय सुलभा विधुरानी के केले के छिलके खाना स्वीकार किया। राम ने शबरी के जूठे बेर खाए और संसार को एक आदर्श प्रेरणा दी विधुरानी सुलभा ने श्रीकृष्ण को ही अपना बेटा मान लिया था, जो आज भी प्रासंगिक हैं। संसार में प्रेम सगाई सर्वश्रेष्ठ और सबसे ऊंची होती है इसलिए प्रेम के आगे सब फीका होता है।

यह बात तुलसी पीठाधीश्वर जगतगुरु श्री रामभद्राचार्य महाराज ने कही। वे नागेश्वर की पावन धरा पर ग्राम बांगरेड़ में अभिनव कुंभ 21 कुंडीय अति रुद्र समन्वित महायज्ञ के उपलक्ष में आयोजित श्रीमद् भागवत ज्ञान गंगा यज्ञ महोत्सव की श्रृंखला में सोमवार को आयोजित अमृत ज्ञान गंगा में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पूरे संसार में केवल मात्र भारत एक ऐसा देश है जहां 24 अवतारों और महापुरुषों ने जन्म लिया है। सृष्टि में सबसे सुंदर देश भारत देश है । प्रत्येक जीव में पंचमहाभूत अंशित रहता है पूर्ण नहीं। संसार के रहने पर जो रहता है संसार के नहीं रहने पर भी जो रहता है वही भाव भगवान है यही भागवत है। रावण ने विभीषण को त्यागा, इसी कारण उसका विनाश हुआ था। श्रीकृष्ण-अर्जुन के दूत बने, युधिष्ठिर के दूत बने दुर्योधन को समझाया लेकिन वह समझ नहीं पाया।

भागवत पोथी पूजन में नीमच नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष राकेश पप्पू जैन, सुचित्रा दिलीप सिंह परिहार, संतोष तोषनीवाल मनासा अतिथि थे। चरण पादुका पूजन राम प्रिय दास महाराज के सान्निध्य में किया गया। प्रतिदिन रात्रि 8 बजे वृंदावन की रासलीला का सजीव चित्रण प्रस्तुत किया जा रहा है। भागवत पोथी पूजन और महाआरती के बाद प्रसाद वितरण किया गया। भागवत कथा स्थल पर यज्ञशाला में 21 कुंडीय अति रुद्र समन्वित महायज्ञ कर्ता महंत श्री राम प्रिय दास महाराज के सान्निध्य में किया जा रहा है । भागवत कथा पंडाल के सामने मेला भी लगा है। दुर्गा वाहिनी की बालिकाओं द्वारा भागवत कथा पंडाल स्थल पर जल सेवा की गई। भीषण गर्मी के चलते भागवत कथा का समय परिवर्तित किया गया है, जो अब प्रतिदिन दोपहर बाद चार बजे से छह बजे तक रहेगा।

तीन दिवसीय नानी बाई का मायरा कथा आज से

नीमच। बड़े हनुमान जी महाराज के सामने नया बाजार में तीन दिवसीय संगीतमय भव्य श्री नानीबाई का मायरा कथा का वाचन भागवताचार्य पंडित श्री गोविंद जी उपाध्याय श्री नरसिंह मंदिर मनासा वालों के मुखारविंद से होगा। आयोजक नया बाजार परिवार उत्सव समिति एवं समाजसेवी निर्मल नरेला, बाबूलाल नागदा, केवल साहू, महंत जानकी दास जी महाराज, अजय शर्मा, एसडी शर्मा, अर्जुन जायसवाल आदि ने सभी भक्तों से अधिक से अधिक संख्या में पधारने का आग्रह किया है। कथा 17 से 19 मई तक प्रतिदिन रात्रि 8 से 11 बजे तक प्रवाहित होगी कलश यात्रा 17 मई को सायं छह बजे बड़े बालाजी नया बाजार से प्रारंभ होकर नरसिंह मंदिर घंटाघर व नगर के प्रमुख मार्गों से होती हुई पुनः नया बाजार कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेगी। माताएं-बहनों की विशेष बैठक आयोजित की गई है एवं अधिक से अधिक संख्या में पधारने का आग्रह किया है।

मुख्यमंत्री आज करेंगे नीमच नगर में 2.12 करोड़ के विकास कार्यों का ई-भूमि पूजन

- कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 5.30 बजे से टाउन हाल में होगा

नीमच। राज्य के नगरीय क्षत्रों में अधोसंरचना विकास को गति देने तथा हितग्राही मूलक योजनाओं के लाभ नागरिकों को पहुंचाने के उद्देश्य से प्रदेश में विकास कार्यों के भूमि पूजन/ लोकार्पण हितग्राहियों को हितलाभ वितरण, प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण के तहत मध्यान्ह भोजन अंतर्गत प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं के छात्र छात्राओं को निश्शुल्क मूंग दाल वितरण व नागरिकों से संवाद कार्यक्रम का आयोजन 17 मई को मुख्यमंत्री के मुख्य आतिथ्य में किया जाएगा। नीमच शहर में उक्त कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 17 मई शाम 5.30 बजे से टाउन हाल में आयोजित किया गया है । उक्त जानकारी देते हुए मुख्य नगर पालिका अधिकारी सीपी राय ने दी। कार्यक्रम में विधायक श्री दिलीपसिंह परिहार सहित अन्य गणमान्यजन अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close