नीमच (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में गुरुवार को मकर संक्रांति का पर्व उत्साह व उमंग के साथ मनाया गया। मकर संक्रांति पर्व पर शहर के आसमान में पतंगों ने पेंच लड़ाए तो घरों में गुड़ व तिल्ली के व्यंजनों की खुशबू महकी।

भारतीय परंपरा के अनुसार 14 जनवरी को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाता है। शहर व जिले में भी इस पर्व को प्रतिवर्ष हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। शहर के खेल मैदानों में युवाओं, महिलाओं व बच्चों ने गिल्ली-डंडा खेला। वहीं पतंगबाजी का आनंद भी लिया। शहरवासियों ने मकर संक्रांति की सुबह मंदिरों में पहुंचकर भगवान की विशेष पूजा-अर्चना की। इसके उपरांत दान-पुण्य कर जरूरतमंदों के बीच खुशियां बांटी। मंदिरों में भी दिनभर भक्तों का तांता लगा रहा। भक्तों ने मकर संक्रांति पर भगवान को गुड़ व तिल्ली से निर्मित व्यंजनों का भोग लगाया। मकर संक्रांति पर बच्चों में अधिक उत्साह देखा गया। शहर के मैदानों व गार्डनों में सुबह से ही बच्चों के पहुंचने का दौर शुरू हो गया था। बच्चों ने अभिभावकों के साथ गिल्ली-डंडे का खेल खेला। बच्चों ने पतंग उड़ाकर भी त्योहार का आनंद लिया। शहर के सार्वजनिक उद्यानों व पतंगों की दुकानों पर दिनभर बच्चों व युवाओं की भीड़ दिखाई दी।

गोवंश को खिलाया हरा चारा

शहर में मकर संक्रांति पर नागरिकों ने गोवंश को हरा चारा खिलाया। शहर के विभिन्ना स्थानों पर गायों को हरी घास खिलाकर नागरिकों ने दान पुण्य किया। जिलेभर के मंदिरों में समाजसेवियों ने जरूरतमंदों को भोजन भी कराया। जिला मुख्यालय के अतिरिक्त जावद, मनासा, सिंगोली, झांतला, नयागांव, अठाना, जीरन, कुकड़ेश्वर, रतनगढ़ सहित अन्य नगरों व ग्रामों में भी गुरुवार को मकर संक्रांति का पर्व मनाया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस