*नीमच में बसंत पंचमी पर हुए अन्य कई आयोजन

नीमच। ऋतु के राजा बसंत की आगवानी शहरवासियों ने जोरदार तरीके से की। मंदिरों में धार्मिक आयोजन हुए तो घर में भी पूजा-अर्चना का दौर चला। शनिवार को भादवामाता में पाटीदार समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन हुआ। वहीं गायत्री मंदिर में सुबह गायत्री महामंत्र का जाप हुआ तो माता का भी पीले वस्त्रों से श्रृंगार किया गया। स्कूलों में भी बसंत पंचमी पर आयोजन हुए।

भादवामाता। पाटीदार समाज के भादवामाता में हुए सामूहिक विवाह सम्मेलन में 76 नवयुगलों ने एक-दूजे का हाथ थामा। सजे-संवरे युवक-युवतियों एवं परिजनों ने सुबह गणपति स्थापना की। उसके बाद बारातों का आगमन एवं स्वागत सत्कार हुआ। आचार्य देवीलाल शर्मा सावन की निश्रा में दोपहर को वरमाला एवं पाणिग्रहण संस्कार प्रारंभ हुआ। वैदिक रीति-रिवाज से विवाह की रस्म अदा कराई गई। विवाह रस्म के बाद दूल्हा-दुल्हनों ने ढोल-ढमाकों के साथ जाकर भादवामाता के दरबार में मत्था टेका। समाज अध्यक्ष महेश पाटीदार, भगतराम पाटीदार राबड़िया, प्रेमसुख पाटीदार जवासा, लक्ष्मीनारायण पाटीदार दूदरसी, राजेश पाटीदार कनावटी, रितेश पाटीदार, शांतिलाल पाटीदार, देवीलाल पाटीदार, रामलाल पाटीदार, मदनलाल पाटीदार, भगतराम पाटीदार सहित समाजजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

सरस्वती की पूजा

कर लिया आशीर्वाद

सीताराम जाजू कन्या महाविद्यालय स्थित सरस्वती प्रतिमा की पूजा कर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की छात्राओं ने विद्या की देवी का आशीर्वाद लिया। यहां छात्रा इकाई की गीताजंलि योगी व अन्य छात्राओं ने बसंत पंचमी और मां सरस्वती के संबंध में उद्बोधन भी दिया। कमाली बटवाल, निकिता पाटीदार, गौरी राठौर, रेणुका राठौर, निलू शर्मा, कोमल मेघानी, गरिमा शर्मा आदि मौजूद रही।

प्रभातफेरी निकाली और

शाम को किया दीपयज्ञ

गायत्री परिवार ने भी बसंत पंचमी धूमधाम से मनाई। सुबह गायत्री मंदिर से प्रभातफेरी निकाली गई। फेरी कमल चौक, फव्वारा चौक, नयाबाजार, पुस्तक बाजार, शिक्षक कॉलोनी, विकास नगर होते हुए वापस मंदिर पहुंचकर विसर्जित हुई। इसके बाद मंदिर परिसर में ही पंचकुंडीय गायत्री महायज्ञ के साथ वसंत पर्व की पूजा की गई। साथ ही विभिन्ना संस्कार भी हुए। शाम को दीप यज्ञ हुआ,जिसमें मंत्रो के माध्यम से आहुति दी गई। गिरिराज सिंह चौहान, प्रभुलाल धाकड़, कृष्ण गोपाल बालदी, अशोक धाकड़, कृष्णकुमार अग्रवाल, ललिता बालदी, तारा नागदा, दीपक अहीर आदि मौजूद रहे।

वसंत के गीत गाए

स्प्रिंगवुड विद्यालय में बसंत पंचमी मनाई गई। शुभारंभ दीप प्रज्जवलन व सरस्वती वंदना से हुआ। श्लोक के माध्यम से कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों ने विद्या की महिमा बताई। तीसरी से पांचवी तक के बच्चों ने आया वसंत आया वसंत..., कविता का पाठ किया। वसंती मौसम हौले हौले आया गीत सातवीं व आठवीं के बच्चों ने प्रस्तुत किया। उत्कृष्ट प्रस्तुति पर डेफोडिल सदन प्रथम रहा। हालीहॉक द्वितीय स्थान पर रहा। वंदना सेन, ऋचा सिंह सहित स्टाफ व विद्यार्थी उपस्थित थे।

Posted By: