----लोगो लगाएं----

सीआरपीएफ के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए प्रदेशभर से आई राखियां, संदेश भी मिले---फ्लेग

नीमच। नईदुनिया प्रतिनिधि

सीआरपीएफ के अधिकारियों-कर्मचारियों के हाथों पर दूर-दूर से आई राखियां सजेंगी। ये राखियां भारत रक्षा पर्व में प्रदेशभर की बहनों ने 'नईदुनिया' के माध्यम से भेजी हैं। इन राखियों के साथ संदेश भी भेजे मिले हैं। राखियां और उपहार देखकर सीआरपीएफ के अधिकारी और कर्मचारी बेहद खुश हुए। उन्होंने सभी बहनों को धन्यवाद देते हुए कहा कि 'हमारी कलाइयों को सूना नहीं रहने दिया।'

भारत रक्षा पर्व के तहत नईदुनिया ने एक अनूठी पहल की है। सेना और अर्धसैनिक बलों के अधिकारियों-कर्मचारियों तक रक्षाबंधन के मौके पर राखियां भेजने के लिए 'नईदुनिया' ने 'भारत रक्षा पर्व' मनाया। नईदुनिया परिवार के सदस्य बुधवार को कें द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के रंगरूट प्रशिक्षण कें द्र नीमच (आरटीसी) पहुंचे। उन्होंने आरटीसी के उप प्राचार्य और डिप्टी कमांडेंट हंसराज मीणा और उनके सहयोगी भानुप्रताप को राखियां और उपहार भेंट कि उन्हें प्रदेशभर की बहनों की भावनाओं से अवगत कराया। 'नईदुनिया' नीमच के कृष्णा शर्मा, -----मार्केटिंग हेड------नरेंद्र शर्मा, सोनूसिंह भारद्वाज, याकू ब मंसूरी, संजय नागदा सहित अन्य मौजूद रहे। सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडेंट मीणा ने बताया कि हम उन बहनों के लिए बहुत शुक्रगुजार हैं, जिन्होंने सीआरपीएफ के आरटीसी के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए राखियां और संदेश भेजे। इस पहल से किसी भी अधिकारी और कर्मचारी के हाथ सूने नहीं रहेंगे। उनके स्नेह और प्रेम के आगे हम नतमस्तक हैं। देश सेवा और भक्ति को निभाने का जो दायित्व हमें मिला है, उसे आगे भी हम यूं ही निभाते रहेंगे। भानुप्रताप ने कहा कि सीआरपीएफ देश की आंतरिक सुरक्षा को लेकर अपने दायित्वों का निरंतर निर्वहन करती रहेगी। इस काम में कभी भी कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। बहनों की यह राखियां हमें संबल और खुशियां देंगे।

फोटो-

14एनएमएच-42,

आरटीसी के उप प्राचार्य और डिप्टी कमांडेंट हंसराज मीणा और उनके सहयोगी भानुप्रताप को राखियां भेंट करते हुए नईदुनिया परिवार नीमच के सदस्य। -नईदुनिया

-----------------