कोरोना संकट काल : नीमच जिले में 26 हजार परिवारों को रोजगार की राहत

नीमच (नईदुनिया प्रतिनिधि)। 22 मार्च से शुरू हुए कोरोना संकट काल से चाहे व्यवस्थाएं नहीं उबर पाई हों, परंतु सरकार की महत्वपूर्ण योजना मनरेगा कई परिवारों के लिए सार्थक साबित हुई। जिले में ही 26 हजार से अधिक परिवारों को इस योजना में मिले रोजगार से राहत मिली है।

उल्लेखनीय है कि इस जिले में एक अप्रैल से शुरू हुए महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के काम में ये परिवार जुड़े। अलग-अलग विकासखंडों में अलग-अलग परिवारों के लगभग सभी वयस्क सदस्यों ने काम किया। खास बात यह रही कि इन परिवारों में वे लोग भी शामिल हैं, जो कोरोना संक्रमण के फैलते ही अन्य राज्यों से लौटकर इस जिले में आए। परियोजना अधिकारी राजेश पाटीदार ने बताया कि जिले में 26 हजार 915 परिवार को रोजगार दिया जा सका है। इसमें मजदूरी और सामग्री मिलाकर 31 करोड़ से अधिक का भुगतान किया गया। बारिश में कुछ समय काम प्रभावित हुए, परंतु अभी भी जिले में जरूरतमंदों को रोजगार दिया जा रहा है।

268 परिवार को मिली अलग से मदद

रोजगार की दिशा में चलाए गए इन कामों में 268 परिवार ऐसे हैं, जो जिले से बाहर काम के लिए गए थे और लौट आए। पाटीदार के अनुसार यह लोग गुजरात, महाराष्ट्र व राजस्थान से यहां लौटे थे। मनरेगा के तहत इन्हें भी प्राथमिकता से काम दिया गया है। राजस्थान में अलग-अलग क्षेत्रों में मजदूरी करने वाले कैलाशचंद्र ने बताया कि जावद विकासखंड में उन्हें तलैया निर्माण में काम मिला। उनके परिवार में पांच सदस्य हैं। वे और उनकी पत्नी शांति बाई ने काम किया। मनासा क्षेत्र के गुजरात के ईंट भट्टों में काम करने वाले रमेश ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल में वहां काम बंद हो गया था। यहां लौटकर उन्होंने मनरेगा के तहत तालाब निर्माण में काम किया।

--

फैक्ट फाइल-

जनपद परिवार

जावद 8514

मनासा 12384

नीमच 6053

योग 26915

--

भुगतान की स्थिति-

जावद 828.48

मनासा 1698.86

नीमच 624.75

कुल 3151.61

(- राशि जिला पंचायत के अनुसार लाख रुपये में दर्शाई गई है।)

वर्सन-------

जिले में मनरेगा के तहत 26 हजार परिवारों को 31 करोड़ से अधिक का भुगतान किया गया है। कोरोना संक्रमण काल में रोजगार दिए जाने के दौरान कोविड गाइड लाइन का पालन भी करवाया गया है।- भव्या मित्तल, सीईओ जिला पंचायत नीमच

फोटो-

27एनसीएच-01- जिले में मनरेगा के तहत शारीरिक दूरी का पालन करते हुए कार्य करते हुए श्रमिक।

27एनसीएच-02- भव्या मित्तल

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020