Neemuch News: नीमच (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के जीरन क्षेत्र के ग्राम कुचड़ोद में गुरुवार को जिला भाजपा कि सान मोर्चा उपाध्यक्ष बलवंतदास बैरागी ने जहरीला पदार्थ सेवन कर आत्महत्या कर ली है। स्वजन उसे गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक की जेब से एक सुसाइट नोट मिला है। उसमें मृतक ने गिरदाव, पटवारी सहित अन्य लोगों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

स्वजनों के हंगामे के बाद पटवारी व गिरदावर को निलंबित कर दिया गया। इसके बाद स्वजनों के दोषियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर एसपी कार्यालय पर भी प्रदर्शन किया। पुलिस ने पीएम कराकर कर शव स्वजनों के सुपूर्द कर दिया है। वहीं मामले में मर्ग कायम कर जांच में लिया है।

उल्लेखनीय है कि जीरन थाना क्षेत्र के कुचड़ोद निवासी भाजपा किसान मोर्चा मंडल उपाध्यक्ष 45 वर्षीय बलवंतदास पुत्र हरिदास बैरागी ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। इसके बाद उन्‍हें स्वजन बेहोशी की हालत में गुरुवार सुबह अस्पताल लेकर पहुंचे थे।

बैरागी ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। उनकी जेब से एक सुसाइड नोट भी मिला। जिसमें मृतक बैरागी ने आत्महत्या का कारण क्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारी, गिरदावर व पटवारी सहित अन्य पर परेशान करने का आरोप लगाया है। इसके बाद स्वजनों ने जिला अस्पताल में शव लेने से इंकार करते हुए हंगामा शुरू कर दिया।

इसके बाद मौके पर एसडीएम डा. ममता खेड़े, तहसीलदार विवेक गुप्ता, नायब तहसीलदार पिंकी साठे, केंट थाना टीआई राजेंद्र नरवारिया पहुंचे। स्वजन 50 लाख रुपये के मुआवजे, एक व्यक्ति को शासकीय नौकरी व दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गए।

इसके बाद कलेक्टर मयंक अग्रवाल के निर्देश पर गिरदावर जाबिर खार व पटवारी नवीन तिवारी को निलंबित कर दिया गया। स्वजनों को समझाइश देते हुए एसडीएम ने मुआवजे का प्रस्ताव बनाकर कर शासन को भेज दिया। इसके बाद शाम को स्वजन जिला अस्पताल से रैली के रूप में एसपी कार्यालय पहुंचे और दोषियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। बताया जा रहा है कि बैरागी व उसके रिश्तेदारों में जमीन विवाद चल रहा था। इनकी पुश्‍तैनी जमीन का बटवारा नहीं हुआ था। वहीं मामला न्यायालय में भी विचाराधीन है।

सुसाइट नोट में इन नामों का जिक्र

बैरागी के जेब से मिले सुसाइट नोट में बताया गया कि मेरे परिवार को परेशान किया जा रहा है। इस सब का जवाबदार गिरदावर जाबिर खान, पटवारी नवीन तिवारी और पूर्व पटवारी गोपाल दास मोहन सहित गोपाल दास, लाला दास, सुनिता, जसोदा बाई पति मोहनदास, गुलाब सिंह, गट्टू सिंह व बलबहादुर सहित अन्य हैं। साथ ही यह भी स्पष्ट किया है कि वे उसे व उसके लड़के 2016 से एनडीपीएस एक्ट में फंसाने की धमकी देते आ रहे हैं। दबंगों ने उसके खेत, कुएं व रास्ते पर भी कब्जा कर रखा है।

जांच के बाद आगे कार्रवाई

कुचड़ोद निवासी बलवंतदास ने गुरुवार को जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। मृतक की जेब से मिले सुसाइट नोट के आधार पर क्षेत्र के पटवारी व गिरदावर को निलंबित कर दिया गया है। मामले में जांच कर आगे कार्रवाई की जाएगी। - डा. ममता खेड़े, एसडीएम, नीमच।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close