- सिंगोली पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बाद हुई कार्रवाई

नीमच (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सिंगोली पुलिस ने बलवाई को कुछ घंटों में गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। साथ ही सख्त कार्रवाई बाद आरोपितों को आगामी छह माह के लिए जेल भेजा है। यह कार्रवाई शनिवार को सिंगोली पुलिस के खिलाफ लोगों के विरोध प्रदर्शन के बाद हुई है।

उल्लेखनीय है कि शनिवार को क्षेत्र के ग्राम महाराजपुरा लालगंज स्थित भूमि पर भूस्वामी प्रदीप नागोरी के मजदूरों जगदीश छीतरमल धाकड़, बजरंग श्यामलाल वैष्णव, नारायण, तेजसिंह, फतेसिंह आदि मजदूर दीवार ठीक करने का काम कर रहे थे, तभी देवालाल मोहनलाल गुर्जर निवासी गोपालपुरा बरड थाना डाबी, राजस्थान अपने साथियों के साथ आया व मारपीट करने लगा और वाहनों में तोड़फोड़ की। इसके बाद पीड़ित पक्ष थाने पहुंचा, जहां पुलिस द्वारा उनके साथ अभधता की गई। इस पर पीड़ित पक्ष के समर्थन में नगर के व्यापारियों ने नगर का बाजार बंद कर तिलस्वा चौराहे पर रोड जाम कर थाना टीआइ को हटाने की मांग व आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए प्रदर्शन किया था। साथ ही मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा का भी घेराव किया था। करीब एक घंटे के रोड जाम के बाद मंत्री सकलेचा की समझाइश पर लोगों ने जाम खोला था। क्षेत्र में बढ़ते अपराध व पुलिस के खिलाफ आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने रविवार को मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपितों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम गठित कर राजस्थान के बूंदी जिले के डाबी तहसील में दबिश देकर देवालाल मोहनलाल गुर्जर निवासी गोपालपुरा बरड थाना डाबी राजस्थान को गिरफ्तार किया। आरोपित से पूछताछ कर अन्य साथियों की जानकारी एकत्रित की जा रही है। आरोपित को रविवार को तहसील न्यायालय सिंगोली पेश किया गया, जहां उसे छह माह तक जावद उपजेल में रखने का आदेश जारी किया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर तिलस्मा चैराहा सिंगोली पर आवागमन बाधित कर चक्काजाम किया गया था। चक्काजाम करने वाले असामजिक तत्वों को फोटोग्राफ व वीडियो से चिन्हित कर अपराध पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close