नीमच (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इस बार प्रदेश के 36 हजार से अधिक काश्तकारों को अफीम बोवनी का अधिकार मिला है। किसानों ने मौसम की अनुकूलता को देखते हुए बोवनी कर दी है। इसके साथ ही अन्य तैयारी भी की जा रही है। इसके अलावा अफीम नीति के मानकों पर खरे नहीं उतरने पर प्रदेश के 612 अफीम काश्तकारों के पट्टे निरस्त भी हुए हैं।

उल्लेखनीय है कि जिले में बड़े स्तर पर अफीम खेती की जाती है। मंदसौर के बाद नीमच में ही सर्वाधिक अफीम काश्तकर हैं। विभाग के पट्टा वितरण के बाद से किसान अफीम की खेती में लग गए हैं। केंद्रीय वित्त मंत्रालय द्वारा 21 अक्टूबर को नई अफीम नीति की घोषणा की गई थी। इसमें प्रति हेक्टेयर 4.2 से 5.4 किलोग्राम मार्फिन देने वाले किसानों को छह आरी, 5.4 से 5.9 से अधिक प्रति किलो मार्फिन देने वाले किसानों को 12 आरी के पट्टे जारी किए गए हैं।

नारकोटिक्स ब्यूरो कार्यालय द्वारा 27 अक्टूबर से किसानों को अफीम पट्टे वितरण कार्य शुरू किए गए। इस बार प्रदेशभर में 1773 गांवों के 36 हजार 708 किसानों को अफीम खेती का अधिकार मिला है। प्रदेश में नीमच, मंदसौर, जावरा व गरोठ में अफीम की खेती की जाती है।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष 37320 किसानों को अफीम के पट्टे दिए गए थे। इस बार 612 किसानों के पट्टे निरस्त हुए हैं। नीमच जिले में इस बार 14 हजार 344 किसानों को पट्टे मिले हैं जबकि करीब 274 पट्टे निरस्त हुए हैं। गौरतलब है कि अफीम की खेती गाइड लाइन के अनुसार ही की जा सकती है। कोई भी किसान अफीम के उत्पाद को बाजार में नहीं बेच सकता है। नारकोटिक्स विभाग अफीम खरीदने के लिए अधिकृत है। देश में नीमच के अलावा उत्तरप्रदेश के गाजीपुर में अल्कालॉयड फैक्ट्री स्थापित है। यहां अफीम से मार्फिन व कोडिन बनाया जाता है। इसका उपयोग दवाइयों के निर्माण में किया जाता है।

नई अफीम नीति की घोषणा के बाद 27 अक्टूबर से ही अफीम काश्तकारों को अफीम पट्टे वितरित किए गए हैं। इस बार प्रदेश में 1773 गांवों के 36 हजार 708 किसानों को अफीम बोवनी का अधिकार दिया गया है। -प्रमोद सिंह, उप नारकोटिक्स आयुक्त केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो, नीमच

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस