पन्ना, नईदुनिया प्रतिनिधि। पन्ना टाइगर रिजर्व के अंतर्गत कोर एरिया जरधोवा के नया पुरवा के जंगल के समीप लगे खेत में उसकी बारी में लगे तार व झाड़ियों में फंसे भालू के बच्चे का सफल रेस्क्यू कर उसे बचाकर जंगल में छोड़ा गया। पन्ना टाइगर रिजर्व के रेस्क्यू अमले ने बगैर बेहोश किए हुए भालू के बच्चे को निकालने पर निश्चित तौर पर अपनी जान हथेली पर रखकर सफल अभियान को अंजाम दिया।

जब रेस्क्यू किया जा रहा था उस समय भालू का बच्चा काफी घबराया हुआ था और जोर-जोर से सीख रहा था फिर भी रेस्क्यू दल द्वारा काफी मशक्कत कर उसे सुरक्षित निकाल लिया गया।

पन्ना टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि गुरुवार की देर शाम सूचना मिली थी कि एक भालू का बच्चा खेत में लगी हुई तार की फिनिशिंग में फस गया और और जोर-जोर से चीख रहा था। उसकी मां आसपास ही घूम रही है। भालू का बच्चा जिस तरह से चीख रहा था उसकी आवाज सुन ग्रामीणों द्वारा वन अमले को सूचना दी गई।

सूचना मिलते ही तत्काल ही रेस्क्यू दल को मौके पर भेजा गया । जहां परिस्थिति काफी जटिल थी। तार में फंसे हुए भालू के बच्चे के आसपास काफी झाड़ियां भी लगी हुई थी । सूझबूझ के साथ रेस्क्यू दल द्वारा पहले झाड़ियां काटी गई फिर तार में फंसे हुए भालू के बच्चे को निकाला गया और तुरंत ही जाल डालकर उसे पकड़ कर सुरक्षित जंगल में छोड़ा गया। शर्मा ने बताया कि बच्‍चे की मां आसपास ही थी। इस कारण रेस्क्यू को बड़ी ही सावधानी पूर्वक किया गया और भालू के बच्चे को बगैर बेहोश किए सफलतापूर्वक निकाल कर छोड़ा गया।

रेस्क्यू दल टीम में यह रहे शामिल

रेस्क्यू टीम में पन्ना टाइगर रिजर्व के रेंजर रोहित पुरोहित व डिप्टी इंद्रजीत लोधी, वनरक्षक संजय मीणा , अरविंद रैकवार , तफ्सील खान के द्वारा भालू को निकाल कर जंगल में छोड़ा गया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local