पन्‍ना, नईदुनिया प्रतिनिधि। मकान का सीमांकन कराने और काम शुरू कराने के एवज में ग्रामीण से तीन हजार रुपये की रिश्वत मांगने वाले पटवारी को लोकायुक्त सागर की टीम ने पन्ना जिले की शाहनगर पंचायत में रिश्वत की रकम लेते हुए पकड़ा है। पटवारी ने ग्रामीण से पूरे काम के लिए पांच हजार रुपये रिश्वत मांगी थी। पहली किश्त के तौर पर तीन हजार रुपये रिश्वत ले रहा था। पटवारी ने ग्रामीण को हनुमान जी की कसम दिलाई थी कि वह इस रिश्वत के बारे में किसी को नहीं बताएगा। यह कार्रवाई लोकायुक्त टीम ने गुरुवार दोपहर 12 बजे पटवारी के घर पर की।

लोकायुक्त सागर टीम के निरीक्षक अभिषेक वर्मा ने बताया कि शाहनगर गांव निवासी लड्डू सिंह ने लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की थी कि उसे अपने मकान का सीमांकन कराना है जिससे वह अपने मकान का जल्द से जल्द निर्माण शुरू करा सके। इसके लिए उसने शाहनगर राजस्व अनुविभाग हल्का नंबर छह के पटवारी मनोज शुक्ला को एक माह पहले आवेदन किया था। इसकी एवज में पटवारी ने उससे पांच हजार रुपये रिश्वत की मांग की और कहा कि तुम हनुमान जी कसम खाओ कि यह बात किसी को नहीं बताओगे। लेकिन लड्डू सिंह के लिए इतनी राशि देने में असमर्थ था। परेशान होकर उसने इसकी शिकायत सागर लोकायुक्त एसी कार्यालय में कर दी। ग्रामीण की शिकायत का सत्यापन कराने के बाद लोकायुक्त एसपी ने एक टीम गठित कर गुरुवार को कार्रवाई के लिए शाहनगर भेजी। पटवारी मनोज शुक्ला ने जैसे ही ग्रामीण से पहली किश्त तीन हजार रुपये लिए, उसी दौरान पहले से तैनात लोकायुक्त टीम ने पटवारी को रकम लेते दबोच लिया। इस कार्रवाई से पटवारी मनोज शुक्ला हड़बड़ा गया। लोकायुक्त टीम ने भ्रष्ट्राचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर उसे जमानत पर रिहा कर दिया है।

कुछ नहीं कहा, जोड़ लिए हाथ: गांव में लोकायुक्त की कार्रवाई की जानकारी से हड़कंप मच गया। लोकायुक्त की कार्रवाई के संबंध में जब पटवारी से उसका पक्ष रखने की बात की गई तो उसने हाथ जोड़कर कुछ भी कहने से मना कर दिया।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local