पन्ना नईदुनिया प्रतिनिधि। अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया प्लेटफार्म में वायरल करने की धमकी देकर (सेक्सटॉर्सन) लोगो से रूपये ऐंठने वाले अंत्तर्राज्यीय मेवाती गैंग के 02 सक्रिय सदस्य पन्ना पुलिस ने किया गिरफ्तार तीन आरोपित अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार हैं। मामले में गिरफ्तार हुए आरोपितों के खिलाफ गुनौर में अपराध पंजीबद्ध किया गया था। जिसमें अनस मेव पिता अफजल मेव 25 साल निवासी मिरचुनी थाना टपूकडा तहसील तिजारा जिला अलवर राजस्थान, यूसफ खान पिता अस्पाक खान 21 साल निवासी ग्राम उटाबड तहसील हथीन थाना उटावड जिला पलबल हरियाणा को गिरफ्तार किया गया मामले के चारों ओर फरार आरोपियों में साजिद पिता सूबेदार खान निवासी कान्हौर थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान, राशिद पिता सूबेदार खान निवासी कान्हौर थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान, मुस्तफा खान निवासी खेङली मन्ना थाना पहारी जिला भरतपुर राजस्थान की पुलिस तलाश कर रही है। आरोपित के कब्जे से, पुलिस को 02 मोबाइल, 01 ए.टी.एम. कार्ड, 01 लैपटॉप एवं 15 हजार नगदी जप्त की है।

घटना का संक्षिप्त विवरण -

दिनांक 10/12/22 को फरियादी द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय पन्ना में शिकायत की गई की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मेरे मोबाइल पर वीडियो कॉल किया गया। वीडियो कॉल में एक अनजान लडकी दिखी जो स्वयं अश्लील हरकतें कर रही थी। कुछ समय बाद अज्ञात नम्बर से मेरे मोबाइल में वीडियो कॉलिंग के दौरान का वीडियो भेजा जाकर मुझसे बोला गया कि जल्दी से तुम पैसा दिये गये अकाउन्ट नम्बर में डालो नही तो उक्त वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल करके तुम्हें बदनाम कर देगें। साथ ही तुम्हारे विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करवाई जायेगी । अज्ञानतावश मैनें दिये गये बैंक खाता नम्बर में पैसा डाल दिया इसके बाद लगातार अज्ञात नम्बरो से मुझे कहीं सीआईडी अधिकारी बनकर कही सोशल मीडिया अधिकारी बनकर लगातार अलग-अलग बैंक खातो में ब्लैकमेल करके कुल 11 लाख रुपए डलवा लिए गए हैं । फरियादी की शिकायत पर पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा तत्काल पुलिस सायबर सेल टीम को अज्ञात आरोपितो के बारे में सम्पूर्ण जानकारी एकत्रित करने हेतु आदेशित किया गया ।

पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही –

वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं थाना प्रभारी गुनौर निरीक्षक व्ही.के. अहिरवार व थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना निरीक्षक अरूण कुमार सोनी के नेतृत्व पुलिस टीम गठित की जाकर उचित कार्यवाही किये जाने हेतु निर्देशित किया गया । पुलिस अधीक्षक पन्ना के निर्देशानुसार मामले में थाना गुनौर में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध धोखाधडी का अपराध कायम किया जाकर विवेचना में लिया गया है । पुलिस सायबर सेल टीम पन्ना से मिली जानकारी के आधार पर गठित पुलिस टीम द्वारा मामले में अंत्तर्राज्यीय मेवाती गैंग के 02 सक्रिय संदेही व्यक्तियों को पहाड़ी भरतपुर राजस्थान से पुलिस के हमराह गुनौर थाना पन्ना लाया जाकर पूँछताछ की गई जिन्होनें पूँछताछ पर बताया कि हम लोग महीने के हिसाब से मुस्तफा इन्टरप्राइजेज पहाड़ी भरतपुर राजस्थान में काम करते हैं । वहाँ पर तीन अन्य लोग ई-मित्र (कियोस्क बैंक) संचालित किये हैं । जो लोगो से वीडीयो कॉल पर लडकी बनकर अश्लील वीडियो वायरल करने एवं कानूनी कार्यवाही करवाये जाने को बोलकर अलग-अलग मोबइल नम्बरों से पुलिस अधिकारी एवं सोशल मीडिया अधिकारी बनकर जालसाजी कर लोगो से पैसा अलग-अलग बैंक खातो में डलवाते हैं और हम लोग वह पैसा उन बैंक खातो से निकाल कर लाते हैं उसमें से ज्यादातर पैसा वो तीनो लोग आपस में बाँट लेते है व थोड़ा पैसा हमें भी दे देते हैं ।

आरोपितों से की गई सामग्री जब्‍त

उक्त व्यक्तियों द्वारा हमें 01 एटीएम. कार्ड और 02 मोबाइल भी इस्तेमाल करने हेतु दिये थे जो हमारे पास है । जालसाजी में हिस्से में मिले रूपयों का हिसाब हम लोगो के पास नही है । पुलिस टीम द्वारा दोनो आरोपितों के कब्जे से 01 एटीएम कार्ड, 02 मोबाइल, 15 हजार रूपये नगद एवं आरोपियों द्वारा संचालित मुस्तफा इंटरप्राइजेज (किसोस्क शाखा) से मिले 01 लैपटॉप मय चार्जर के , 01 रजिस्टर, 03 अन्य मोबाईल, 01 बायोमैट्रिक डिवाईस, एवं 03 सिम कार्ड को जप्त किया जाकर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है । मामले में 03 संदेही व्यक्ति फरार है जिनकी तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है । जल्द ही पुलिस टीम द्वारा आरोपितो गिरफ्तार किया जायेगा । उक्त जालसाज के द्वारा देश के अलग- अलग राज्यों मे जालसाजी कर अपराध किए गए है,। उनके के द्वारा 01 माह मे फरियादी के द्वारा जिन खातों मे पैसा डलवाए गए है, उक्त 06 खातों मे करीब 90 लाख रूपए जमा हुए है। मामले मे पुलिस की विवेचना जारी है फरार आरोपियों की गिरफ्तारी उपरान्त पन्ना जिले के अलावा अन्य प्रान्तों में कायम हुये मामलो के खुलासा होने की प्रबल संभावना है।

Posted By: Navodit Saktawat

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close