Tiger Death in Panna, पन्ना। पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघों की मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है, रविवार की देर शाम हिनौता रेंज के गगऊ बीट के सकरा में एक नर बाघ की सड़ी गली लाश नदी में मिली। जिसके बाद पार्क प्रबंधन में हड़कंप मच गया है, लगातार हो रही बाघों की मौतों के कारण टाइगर रिजर्व चर्चा में है।

बाघ पी 123 की लाश केन नदी के पानी में बहती हुई मिली। बताया जा रहा है इसकी मेल टाइगर है पी-431 से 3 दिन पहले लड़ाई हुई थी। खोजने के बाद नदी के पानी में शव मिला है, शव को मगरमच्छ और अन्य जानवरों ने खा भी लिया है। फील्ड डायरेक्टर केयस भदौरिया ने बताया कि 7 अगस्त के दिन 2 मेल टाइगरों में मेटिंग को लेकर लड़ाई हुई थी। जिसमें युवा बाघ पी 123 घायल हो गया था। जिसका मृत शरीर पानी में पाया गया, जिस पर सबसे बड़ा प्रश्न यह है कि जब प्रबंधन को यह पता था कि टाइगर घायल है, तो नदी में कैसे डूब कर मर गया। 3 दिन बाद कैसे लाश मिली? ये टाइगर टी-6 से मैटिंग के लिए संघर्ष कर रहे थे।

ज्ञात हो कि 2009 में पन्ना टाइगर रिजर्व बाघ विहीन हो गया था इसके बाद अन्य टाइगर रिजर्व से बाघों को लाकर यहां बसाया गया था। इनका कुनबा बढ़ने लगा था अब इनकी संख्या 50 से अधिक हो गई थी लेकिन बीते कुछ माह से लगातार बाघ मर रहे हैं। और इनकी क्षत-विक्षत लाशें मिल रही हैं। पन्ना टाइगर रिजर्व में बीते 7 माह के अंदर यह पांचवी टाइगर की मौत है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020