हीरा मिलने की खबर फैलने के बाद से घर पर उत्सव जैसा माहौल

पन्ना नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले की रत्नगर्भा धरती ने गृहलक्ष्मी को आज मालामाल कर दिया है। हीरा की खदानों के लिए प्रसिद्ध पन्ना जिले की उथली खदान से इस महिला को 02.08 कैरेट वजन का बेशकीमती हीरा मिला है जिसकी अनुमानित कीमत 10 लाख रुपए आंकी जा रही है। यह नायाब हीरा पन्ना जिले के ग्राम इटवा कला निवासी श्रीमती चमेली रानी पत्नी अरविंद सिंह को कृष्णा कल्याणपुर की पटी हीरा खदान में मिला है।

महज 3 महीने की मशक्कत के बाद मेला बेशकीमती हीरा

हीरा मिलने के साथ ही गृह लक्ष्मी वास्तव में मालामाल हो गई। इस नायाब हीरे की अनुमानित कीमत लाखों रुपए मैं आंकी जा रही है। हीरा धारक चमेली रानी ने हीरा मिलने पर मंगलवार को नियमानुसार कलेक्ट्रेट स्थित हीरा कार्यालय में आकर जमा कर दिया है। इस हीरे को आगामी होने वाली नीलामी में विक्रय के लिए रखा जायेगा।

हीरा कार्यालय पन्ना के हीरा पारखी अनुपम सिंह ने बताया कि ग्राम इटवा कला निवासी श्रीमती चमेली रानी ने 200 रुपए का शुल्क जमा कर कृष्णा कल्याणपुर में हीरे की खदान 23,02,2022 को स्वीकृत कराई थी। खदान संचालन के महज 3 महीने बाद ही उक्त महिला को 02.08 कैरेट वजन का बेशकीमती हीरा मिला है, जो जेम क्वालिटी का है।

हीरा पारखी ने बताया कि जमा हुए इस हीरे को आगामी नीलामी में बिक्री के लिए रखा जायेगा। बिक्री से प्राप्त राशि में से शासन की रायल्टी काटने के बाद शेष राशि हीरा धारक को प्रदान की जाएगी। हीरे की अनुमानित कीमत पूंछे जाने पर हीरा पारखी ने बताया कि हीरा जेम क्वालिटी का है जिसकी अच्छी कीमत मिलने की उम्मीद है, लेकिन अभी उसकी कीमत नहीं बताई जा सकती। जानकर इस हीरे की अनुमानित कीमत 10 लाख रुपये के लगभग आंक रहे हैं।

अचानक ही यहां पर कब किसकी किस्मत चमक जाये

गौरतलब है कि पलक झपकते ही रंक से राजा बनने का चमत्कार यदि कहीं घटित होता है तो वह रत्नगर्भा पन्ना जिले की धरती है। इस धरती की यह खूबी है कि अचानक ही यहां पर कब किसकी किस्मत चमक जाये कुछ कहा नहीं जा सकता। ऐसा ही कुछ 24 मई 2022 मंगलवार को इटवा कला गांव की महिला चमेली रानी की जिन्दगी में घटित हुआ। इस बहुमूल्य हीरा मिलने की खबर फैलने के बाद से उनके घर पर उत्सव जैसा माहौल है। हर कोई उन्हें बधाई दे रहा है तथा परिचितों और रिश्तेदारों का आना-जाना लगा है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close