मंडीदीप। बिजली चोरी को देखते हुए मप्र मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों ने बीस दिवस में 74 मकानों दुकानों पर जांच की। कही मीटर से छेड़छाड़ तो कही सीधे पोल से लाइट और कही स्वीकृत लोड से अधिक भार मिलने पर प्रकरण बनाकर जुर्माना वसूल किया गया। बीस दिन की सघन चेकिंग अभियान में बनाए गए प्रकरणों में मंडल को पन्द्रह लाख का राजस्व प्राप्त हुआ। यह जानकारी देते हुए विद्युत मंडल के उप महा प्रबंधक वैभव यादव ने बताया कि इसी माह में अब तक शहर में संघन चेकिग अभियान चलाया गया।

जिसके तहत शहर में बिजली चोरी विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत कुल 44 प्रकरण दर्ज किए गए। जिसमें अवैध उपयोगकर्ताओं पर राशि 11.34 लाख का जुर्माना लगाया गया। इसी प्रकार कई प्रतिष्ठिानों पर स्वीकृत लोड से अधिक लोड पाये जाने पर विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 126 के कुल 30 प्रकरण दर्ज किए गए। जिसमें राशि 3.6 लाख का जुर्माना लगाया गया। उन्होंने यह भी बताया की वार्ड क्रमांक 6, लवकुश नगर निवासी शिराज अहमद के तीन मंजिला इमारतए जिसमें कई दुकानों का संचालन हो रहा था। एवं कई किरायेदार के साथ ही भवन निमार्ण का कार्य भी चल रहा था। उनके परिसर का मीटर बंद पाया गया एवं पोल से तीन केबल डालकर सीधा विद्युत चोरी करते हुए पाए गए। सतर्कता विभाग के अधिकारियों द्वारा मौके पर विद्युत चोरी एवं उद्देश्य परिवर्तन के दो पंचनामें बनाकर प्रकरण दर्ज किए गए जिसमें शिराज पर 1.70 लाख का जुर्माना लगाया गया।

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना गरीबों के लिए बनी वरदान

मंडीदीप। सरकारी योजना प्रचार प्रसार के अभाव के कारण फाइलों में कैद रहकर वास्तविक लोगों तक नही पहुंचती। अधिकारी गंभीर हो तो उसका लाभ भी गरीबो को मिल सकता है। कुछ ऐसा ही अनुभाग के धामधूसड़ गांव के राकेश पाल के साथ हुआ। उनके दूध पीते बालक की पीठ पर फोड़ात न्यूरल ट्यूब था। जिसका मंहगा इलाज कराया, परन्तु वह ठीक नहीं हो रहा था। सरकारी अस्पताल के चिकित्सक उमर शरीफ ने बीएमओ डा. अरविंद सिंह चौहान को बताया तब उन्होंने आरबीएसके योजना के तहत निजी अस्पताल में भर्ती करा कर उपचार किया। जिसमें ऑपरेशन भी शामिल है उपचार के बाद बालक स्वस्थ्य होकर घर आ गया। इस बारे में बच्चे के माता पिता ने बताया कि हम गरीब है हमारी हैसियत भी नहीं थी। सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों ने हमें सरकार की इस योजना के बारे में बताया बल्कि भर्ती कराकर इलाज निश्शुल्क कराया उन्होंने बताया की यह योजना हमारे लिए वरदान साबित हुई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close