बेगमगंज। बेगमगंज तहसील के हैदरगढ़ विदिशा मार्ग पर बीना नदी पर ईदगाह के पास बना पुल का हाल ही में निर्माण हुआ है। निर्माण के बाद पहली ही वर्षा में यह पुल निर्माण कार्य में हुए भ्रष्टाचार की कहानी बयां करने लगा। ब्रिज कारपोरेशन ने ठेकेदार के माध्यम से इस पुल का निर्माण कराया गया है। करीब ढाई करोड़ रुपये की लागत के इस पुल का निर्माण हुआ है। सोमवार-मंगलवार की रात वर्षा के चलते इस पुल का एक हिस्सा तीन फीट तक धस गया है। 24 घंटे से क्षेत्र में हो रही वर्षा के कारण बीना नदी उफान पर है। काफी दूर-दूर तक पानी फैला हुआ है। आसपास के इलाकों के रास्ते बंद हो चुके हैं। करीब दो दर्जन गांवों का सड़क संपर्क विदिशा से टूट गया है। बीना नदी के नवनिर्मित पुल का एक हिस्सा करीब 20 से 25 फीट लंबाई तक तीन फीट नीचे धसक गया है। पुल के धसकने से आई दरारों के कारण इस मार्ग से हैदरगढ़ विदिशा के लिए आवागमन बंद हो गया है। रायसेन जिले की बेगमगंज तहसील और विदिशा जिले के हैदरगढ़ के करीब दो दर्जन ग्रामों के लोगों को आवागमन के लिए बीना नदी पर पुल का निर्माण कराया गया है। क्षेत्र के रहवासियों को खुशी थी कि बीना नदी के माला घाट पर पुल का निर्माण कार्य पूर्ण होने के बाद उनका आवागमन वर्षा में भी अवरुद्ध नहीं हो पाएगा। लेकिन रहवासियों की खुशी पहली ही वर्षा में काफूर हो गई और पुल के एक हिस्से के धसकने से आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया है। यहां दो पहिया वाहन तक किसी भी तरह से नहीं निकल पाएंगे। लोग जोखिम लेकर पैदल निकलने का प्रयास जरूर कर रहे हैं। वर्षा अधिक होने से बीना नदी काफी दूर तक फैली हुई है। हमारे प्रतिनिधि द्वारा जान जोखिम में डालकर कमर कमर पानी में से होते हुए पुल पर पहुंचकर यह वीडियो और फोटो कवरेज किए हैं। जिन्हें देखने के बाद स्पष्ट हो रहा है कि जमकर भ्रष्टाचार किया गया है। लाखों रुपये की लागत का यह पुल पहली वर्षा में धराशायी होता नजर आ रहा है।

पहले पुल की लागत करीब ढेड़ करोड़ रुपये थी, लेकिन बीना बांध के डूब क्षेत्र के सर्वे के उपरांत इस पुल की ऊंचाई को बढ़ाया गया ताकि आवागमन में किसी तरह का व्यवधान पैदा ना हो। ऊंचाई बढ़ने के बाद लागत ढाई करोड़ पहुंच गई है। ब्रिज कारपोरेशन ने इस पुल के निर्माण कार्य का ठेका आदित्य कंस्ट्रक्शन कंपनी गुजरात को दिया था। जिसने पेटी कांटेक्ट पर बेगमगंज के एक नेता को उसका ठेका दे दिया। निर्माण पूरा होने के बाद ठेकेदार अपना सामान यहां से उठाकर ले गया है। पुल अभी विभाग को हस्तांतरित नहीं हुआ। आमजन पुल निर्माण में किए गए भ्रष्टाचार की बातें चौक चौपालों पर करते नजर आ रहे हैं और जांच की मांग भी कर रहे हैं। क्षेत्र के जागरूक लोगों ने स्थानीय अधिकारियों को पुल के धसकने की जानकारी दी गई है। बीना नदी के उफान पर होने और दूर-दूर तक पानी के फैलाव के कारण स्थानीय अधिकारी पुल का निरीक्षण करने मौके पर नहीं पहुंचे।

इस संबंध में आदित्य कंस्ट्रक्शन के जिम्मेदार अधिकारी जिन्होंने अपना नाम नहीं बताया उनका कहना है कि पुल के शुरूआत का हिस्सा धसका है। जिसका सुधार कार्य कराया जाएगा, पुल में किसी तरह की कोई खराबी नहीं आई है।

- स्थल निरीक्षण करने के बाद ब्रिज कारपोरेशन को सूचित कर स्थिति से अवगत कराया जाएगा।

अभिषेक चौरसिया, एसडीएम बेगमगंज।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close