रायसेन। नवदुनिया प्रतिनिधि

विश्व संरक्षित धरोहर सांची स्तूप परिसर में मंगलवार को सुबह 7 बजे विश्व योग दिवस पर तीन हजार से अधिक लोगों ने सामूहिक रूप से योग किया। जहां मुख्य अतिथि के रूप में भारत सरकार के सूक्ष्‌म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग के राज्य मंत्री भानू प्रताप सिंह शामिल हुए। विशेष उन्होंने योग सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की प्राचीन विधा योग को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरी दुनिया में स्थापित किया है। आज विश्व में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मना रहा है। आज योग पूरे विश्व को निरोग करने का काम कर रहा है। सभी को प्रतिदिन समय निकालकर योग जरूर करना चाहिए। यदि शरीर स्वस्थ हो तो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता स्वयं कई रोगों से मुकाबला कर लेती है। सिंह ने कहा कि किसी भी कार्य को ठीक तरह से करने के लिए स्वस्थ शरीर के साथ, मन भी ऊर्जा, आनंद और प्रसन्नाता से भरा होना चाहिए। योग शरीर को स्वस्थए मन को नियंत्रित, अनुशासित और प्रसन्ना रखता है। उन्होंने युवाओं और बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी को प्रतिदिन योग करना चाहिए। योग से जीवन में अनुशासन आता है, शरीर स्वस्थ रहता है और सकारात्मक ऊर्जा का भी संचार होता है। इससे बेहतर तरीके से अध्ययन पर ध्यान केन्द्रित कर पाएंगे तथा जीवन में निर्धारित लक्ष्‌य प्राप्ति के लिए कार्य की क्षमता भी विकसित होगी।

कोरोना काल में योग का महत्व समझा- चौधरी

स्थानीय विधायक व मप्र के स्वास्थ्य मंत्री डा. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि आज देश में 75 स्थानों पर और प्रदेश में चार प्रमुख स्थानों पर योग के विशेष सत्र आयोजित किए जा रहे हैं। इनमें हमारा सांची भी शामिल हैं। आज इस एतिहासिक धरोहर पर तीन हजार से अधिक लोग सामूहिक योग के लिए एकत्रित हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में दुनिया ने योग का महत्व जाना और समझा है। स्वस्थ जीवन के लिए योग का बहुत महत्व है। योग जीवन का हिस्सा नहीं है, योग स्वस्थ जीवन जीने का मार्ग है। योग के माध्यम से अनेक बीमारियों से बचा जा सकता है। कई बीमारियां भी नियमित योग से ठीक हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को योग जरूर करना चाहिए। योग से शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास होता है। कलेक्टर अरविन्द कुमार दुबे ने कहा कि आज सांची के साथ ही सम्पूर्ण जिले में सामूहिक योग कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। सांची बौद्ध विश्वविद्यालय की कुलपति डा. नीरजा गुप्ता ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में एसपी विकास कुमार शहवाल, डीएफओ अजय पाण्डेय, जिला पंचायत सीईओ पीसी शर्मा अन्य अधिकारियों, कर्मचारियों, छात्र-छात्राओं ने सामूहिक रूप से दंडासन, वज्रासन, वक्रासन, मकरासन, शवासन सहित योग के अन्य आसन किए गए। कार्यक्रम स्थल पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के संबोधन का लाइव प्रसारण भी देखा व सुना गया।

जिला न्यायालय परिसर में सामूहिक योग शिविर आयोजित

रायसेन। उच्च न्यायालय मप्र जबलपुर के निर्देशानुसार ओंकार नाथ प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश के मार्गदर्शन में जिला न्यायालय रायसेन में प्रातः 7 बजे से योग शिविर का आयोजन किया गया। इस योग शिविर में दीपक गुप्ता विशेष न्यायाधीश जो कि प्रशिक्षित योग इंस्ट्रक्टर भी हैे के द्वारा बताया गया कि इस वर्ष की थीम मानवता के लिए योग है जिसका उद्देशय योग के माध्यम से मानवता को सक्रिय और प्रेरित कर संतुलन, सदभाव और स्थिरता कायम करना है। साथ ही आयुष मंत्रालय द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल अनुसार दीपक गुप्ता द्वारा शिविर में सूर्यनमस्कार, प्राणायाम एवं अन्य योग क्रियाओं का अभ्यास करवाया गया। शिविर में जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश शरद भामकर एवं नौशीन खान, सीजेएम वर्षा सिंह भाटी, न्यायिक मजिस्ट्रेट हर्षराज दुबे एवं दीपिका यादव, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सुरेश चंद्रवंशी, कार्यकारिणी सदस्य, अन्य अधिवक्ता, न्यायालय के प्रशासनिक अधिकारी एवं कर्मचारीगण ने उपस्थित होकरए शिविर का लाभ उठाया और सभी ने योग अभ्यास का लाभ महसूस करते हुए योग को नियमित जीवन शैली का हिस्सा बनाकर निरंतर अभ्यास करने का संकल्प लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close