रायसेन। नवदुनिया प्रतिनिधि

थाना कोतवाली के अंतर्गत शहर के दशहरा मैदान व केंद्रीय विद्यालय से करीब एक किमी मीटर दूर खेत के मकान में रह रही बुजुर्ग महिला की मंगलवार दोपहर ईंट और कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी गई है। हत्यारे महिला के पास रखे 75 हजार रुपये नकदी और डेढ़ लाख के सोना-चांदी के जेवर चोरी करके ले गए हैं। बताया जाता है कि दशहरा मैदान में बटिया से लगभग चार एकड़ जमीन पर धनियाखेड़ी के पास की निवासी यशोदाबाई बैरागी उम्र 85 वर्षीय अपने बेटे और अपनी बेटी के साथ सब्जी लगाने का काम करती थी। उनका बेटा जगन्नााथ दोपहर 12 बजे उनको घर पर अकेला छोड़ कर गया था। इसके बाद यशोदाबाई की छोटी बहन नर्मदाबाई ने आकर देखा तो उसके होश उड़ गए। खून से लथपथ यशोदा कमरे में पड़ी थी और शरीर पर कोई कपड़े भी नहीं थे। इसके बाद उन्होंने उनके शरीर पर कपड़ा ढांका और उनकी लड़की को सूचना दी। घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृत मीणा, एसडीओपी अदिति भावसार, थाना कोतवाली प्रभारी आशीष सप्रे ने जांच पड़ताल शुरू करते हुए आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से हत्यारे की तलाश शुरू कर दी है। वही प्रथम दृष्टि से देखा जाए तो यह वारदात हत्यारों द्वारा लूट के इरादे से की गई है। यशोदाबाई की हत्या करके उनके कमरे में रखे 75000 रुपये और करीब डेढ़ लाख रुपये मूल्य के सोना- चांदी के आभूषण चुरा ले गए हैं।

ईंट, कुल्हाड़ी से की हत्या

बताया जाता है कि यशोदाबाई कमरे के बाहर कुछ काम कर रही थी। इसी दौरान अज्ञात हत्यारों ने पहले उनके सिर में ईंट से जोरदार वार किया उसके बाद उनको घसीट कर कमरे में ले गए। यहां पर कुल्हाड़ी से सिर में भी कई वार किए हैं। अधिक खून बहने से बुजुर्ग की मौत हो गई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मीणा ने बताया कि दशहरा मैदान के पास धनियाखेड़ी के खेत में महिला की हत्या हो जाने की सूचना मिली थी। जिसकी जांच प्रारंभ कर दी है। मृतक महिला का नाम यशोदाबाई है। महिला की हत्या की मामले की जांच की जा रही है।

धनियाखेड़ी से रतनपुर-चिकलोद के जंगल में भागे हत्यारे

बताया जाता है कि धनियाखेड़ी के पिछले क्षेत्र से होकर रतनपुर व चिकलोद के जंगल में हत्यारे फरार हो गए हैं। इस क्षेत्र में कई अपराधिक प्रवृत्ति के लोग निवास करते हैं। पुलिस ने पूरे क्षेत्र में सूचना जारी करते हुए हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close