Raisen News : बेगमगंज (नवदुनिया न्यूज)। बेगमगंज पुलिस के लिए ज्वेलर्स के यहां हुई लाखों की चोरी का पता लगाना चुनौतीपूर्ण था। पुलिस ने रविवार को चोरी का माल बरामद करने सहित चोरों को हिरासत लिया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गत 27 जुलाई की रात में अज्ञात चोरों ने ज्वेलर्स सचिन जैन पिता राकेश कुमार जैन निवासी गांधी बाजार की पुराने बस स्टैंड के पास स्थित श्रीजी ज्वेलर्स नाम की दुकान से लाखों रुपये के सोने चांदी के आभूषण चोरी करके अज्ञात चोर ले गए थे। थाना प्रभारी राजपाल सिंह जादौन ने बताया कि पुलिस अधीक्षक विकास कुमार शाहवाल व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृत मीणा, एसडीओपी सुनील बरकड़े के मार्गदर्शन में टीम गठित कर वीडियो फुटेज के अनुसार अज्ञात आरोपितों की तलाश की गई। आरोपित देशराज बंसल पिता दौलतराम उम्र 21 वर्ष निवासी व आकाश पिता प्रेम सिंह लोधी आयु 19 वर्ष दोनों निवासी ग्राम सलैया को पकड़कर पूछताछ की गई। दोनों आरोपितों ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि श्रीजी ज्वेलर्स दुकान में चांदी के आभूषण चोरी की थी। पुलिस ने आरोपितों से कुछ चांदी के आभूषण भी बरामद किए। साथ ही आरोपितों ने बताया कि चोरी किए गए कुछ आभूषणों को बेचने के लिए खिरिया नारायणदास बेगमगंज के रहने वाले सलमान बेग व शुभम पंथी को दिए हैं। सलमान बेग पिता रसीद बेग उम्र 25 साल व शुभम पंथी पिता मदन पंथी दोनों निवासी खिरिया नारायणदास को पकड़कर पूछताछ की गई। दोनों से आभूषण बरामद किए। चारों आरोपितों से कुल एक किलो 900 ग्राम चांदी के आभूषण बरामद किए गए। आरोपितों को पकड़ने एवं माल बरामद करने में थाना प्रभारी जादौन, उप निरीक्षक दीपक वर्मा, प्रधान आरक्षक कल्याण गुर्जर, अरविंद, जितेंद्र, रामू सिंह, सैनिक रामकिशन की भूमिका रही है।

सड़क किनारे खोदी गई खंती में डूबने से 11 वर्षीय बालक की मौत

बेगमगंज(नवदुनिया न्यूज)। निकटवर्ती ग्राम ढिमरौली में सड़क निर्माण करने वाले ठेकेदार द्वारा मुरम खोदने के कारण बनी हुई गहरी खाई में वर्षा का पानी भरा होने से 11 वर्षीय बालक अन्य बालकों के साथ वहां पर खेलते खेलते खाई के पानी में पहुंच गए। पानी अधिक होने के कारण एक बालक उसमें डूब गया। सूचना मिलते ही प्रशासनिक अधिकारी पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और गोताखोरों की मदद से बालक के शव को बाहर निकलवाकर पीएम उपरांत शव परिजनों को सौंप दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ढिमरोली गांव निवासी इरफान खां मंसूरी का 11 वर्षीय पुत्र अलीशान अपने दोस्तों के साथ गांव के बाहर रास्ते पर सड़क निर्माण करने वाले ठेकेदार द्वारा मुरम के लिए खोदाई करने पर बनी खंती में खेलने गया था। जहां पर खेलते समय उक्त बालक पानी में डूब गया। उसके साथ खेल रहे बच्चों ने दौड़कर उसके घर जाकर परिजनों को इसकी जानकारी दी। जब तक परिजन व गांव के लोग घटनास्थल पर पहुंचे तब तक बालक पानी में डूब चुका था। प्रशासन की मदद से बालक पानी के अंदर तलाश कराया गया। शव पानी से बाहर निकलवाकर आवश्यक कार्रवाई उपरांत पुलिस ने मर्ग कायम कर पीएम के लिए भिजवाया। घटना से गांव में मातम छा गया। गौरतलब है कि करीब तीन साल पहले इसी तरह दो बालक स्कूल से वापस घर आते समय ऐसी ही एक खंती में इसी सड़क पर भरे पानी में नहाते समय डूब कर काल के गाल में समा चुके हैं। आज तक ऐसी गहरी खंती का संरक्षण नहीं किया गया है। इसके अतिरिक्त कीरतपुर गांव में भी ऐसी ही घटना घटित हुई थी। जिसमें भी एक बालक की मौत हो गई थी और सलैया गांव के पास भी खंती में दो बच्चों की इसी तरह डूब कर मौत हो चुकी है। संबंधित ठेकेदारों से ऐसी खंती समतल करने के लिए कोई कार्रवाई की गई है। उनके आसपास कटीले तार लगाने के लिए कोई प्रयास नहीं किए गए। घटना की जानकारी मिलते ही जनपद अध्यक्ष व विधायक प्रतिनिधि पुष्पेंद्र सिंह ठाकुर ने पहुंचकर शासन से मिलने वाली अंत्येष्टि सहायता के रूप में सरपंच के माध्यम से पांच हजार रुपये संबंधित परिवार को दिए हैं। प्रशासनिक अधिकारियों ने घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को देकर हलका पटवारी को शासन की सहायता के लिए प्रकरण तैयार करने के लिए कहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close