रायसेन, नवदुनिया प्रतिनिधि! जिला मुख्यालय में पिछले 20 दिनों से जल सप्लाई गड़बड़ाई हुई है। इसको लेकर कांग्रेस के पार्षदों ने आंदोलन छेड़ दिया है। कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों का आरोप है कि नगर पालिका अध्यक्ष एवं नगर पालिका सीएमओ द्वारा आमजन की समस्या को गंभीरता से नहीं लेने एवं जल आपूर्ति में पूरी तरह नगर पालिका के प्रबंधन के फेल होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आमजन की आवाज को उठाने के लिए और जल्द से जल्द भरपूर पेयजल आपूर्ति की मांग को लेकर नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष प्रभात चावला और कांग्रेस के पार्षदों ने नगर पालिका के खिलाफ भूख हड़ताल शुरू कर दी है।

शहर के महामाया चौक स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास दीनदयाल परिसर में अनिश्चितकालीन धरना दिया जा रहा है । इस मौके पर कांग्रेस पार्टी के सभी पार्षद ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मनोज अग्रवाल, युवा कांग्रेस अध्यक्ष विकास शर्मा, राजू माहेश्वरी सहित अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता व सात पार्षद मौजूद हैं। नपा नेता प्रतिपक्ष चावला ने बताया कि नगर में पिछले बीस दिनों से जल संकट से जनता परेशान है। नपा अध्यक्ष तो डमी साबित हुई है उनके पति पूर्व नपाध्यक्ष जमना सेन परिषद चला रहे हैं। कांग्रेस के पार्षदों की कोई सुनवाई नहीं हो रही। विकास के सभी कार्य ठप पड़े हुए हैं। नगर की सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं। साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दिया जा रहा। नपा अध्यक्ष पति अपनी मनमानी कर रहे हैं। प्रशासन को कांग्रेस की ओर से कई बार इन समस्याओं से अवगत कराया है। नपा अध्यक्ष की कुर्सी पर उनके पति बैठते हैं। इसकी शिकायत कलेक्टर को करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

इधर, नपा अध्यक्ष पति जमना सेन का कहना है कि हलाली डैम की बाढ़ के जलभराव में पंप हाउस डूब गया था। जिससे मशीनें खराब हो गई हैं। नपा के इंजीनियर सुधार कार्य में दिन-रात लगे हुए हैं। वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में स्थानीय ट्यूबवेलों व टैंकरों के माध्यम से नगर में जल वितरण किया जा रहा है। एक-दो दिन में पंप हाउस से भी जल वितरण शुरू हो जाएगा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close