रायसेन/देवनगर। रायसेन जिले के देवनगर थाना क्षेत्र के ग्राम सिरसौदा पठारी में शुक्रवार को तलघर की सफाई करने उतरा मजदूर जहरीली गैस का शिकार हो गया। दम घुटने से उसकी मौत हो गई। उसे बचाने उतरे पुत्र सहित चार अन्य लोग बेहोश हो गए। इनमें से को भोपाल रेफर किया है। दो रायसेन जिला अस्पताल में भर्ती हैं।

गांव के निवासी नागेंद्र सिंह लोधी के मुताबिक महाराज सिंह लोधी के मकान में बने तलघर की सफाई के लिए सुबह करीब 11 बजे उनका नौकर रामदास आदिवासी(45) उतरा था। कुछ ही देर में वह बेहोश होकर गिर गया। यह देखकर रामदास का बेटा गंगा आदिवासी(22) उसे बचाने उतरा, तो वह भी बेहोश हो गया।

उन दोनों को निकालने के लिए संतोष लोधी(35), विशाल लोधी(24) और विक्रम लोधी(25) भी उतर गए, लेकिन वे भी गिरकर छटपटाने लगे। यह देखकर गांव के अन्य लोगों को भी बुलाया। नागेंद्र के मुताबिक अन्य लोगों की मदद से वह खुद एक रस्सी के सहारे उतरा। एक-एक कर पांचों को बेहोशी की हालत में बाहर निकालकर जिला अस्पताल लाए। जहां डॉक्टर ने रामदास आदिवासी को मृत घोषित कर दिया।

संतोष और विक्रम को भोपाल रेफर कर दिया। जबकि विशाल और गंगा का इलाज रायसेन में किया जा रहा है। ग्रामीणों के मुताबिक यह तलघर लंबे समय से बंद था। पूर्व में यहां डीएपी (खेती में उपयोग होने वाला उर्वरक) रखा था। आशंका है कि इसी कारण वहां गैस बन गई होगी। देवनगर पुलिस ने बताया कि मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।

जहरीली गैस से घुटा दम

जहरीली गैस के कारण इन पांचों की हालत बिगड़ी है। इनमें से एक की मौत हो गई। दो गंभीर मरीजों को भोपाल रेफर किया है। दो अन्य का इलाज चल रहा है।

-डॉ. यशपाल बाल्यान, वरिष्ठ चिकित्सक, जिला अस्पताल, रायसेन

Posted By: Hemant Upadhyay