अम्बुज माहेश्वरी, रायसेन। विश्व के सबसे बड़े शिवलिंग के लिए पहचाने जाने वाले भोजपुर के शिव मन्दिर से जुड़ा एक वीडियो गुरुवार को दुनियाभर में लाखों लोगों ने सोशल मीडिया पर पसन्द किया। दरअसल यह वीडियो शिव तांडव स्त्रोत पाठ का था जिसमें एक बाबा बिना किसी संगीत के सस्वर ऐसा पाठ करते नजर आ रहे थे कि जिसने भी यह देखा और सुना वो बिना पसन्द किये नहीं रहा।

फिल्म अभिनेता अनुपम खेर ने तो इस वीडियो को अपने इंस्ट्राग्राम पर शेयर करते हुए " भक्ति गीत, भारत मे कहीं प्राचीन मंदिरों में से एक इस भक्त के शक्तिशाली और भावपूर्ण गायन को सुनकर मेरे रोंगटे खड़े हो गए। कमाल का गाया" लिखा है।

अनुपम खेर सहित अन्य कई लोगों द्वारा जब यह वीडियो सोशल मीडिया शेयर किया गया तो इसे पसंद करने वालों की संख्या देश-विदेश में लगातार बढ़कर लाखों में पहुंच गई।

कौन है कालीचरण बाबा

कालीपुत्र कालीचरण बाबा महाराष्ट्र के अकोला के रहने वाले हैं और बजरंग सेना के राष्ट्रीय अनुशासन प्रभारी है। वे हाल ही में भोजपुर शिव मंदिर दर्शन करने आये हुए थे। उन्होंने भावपूर्ण तरीके से यहां जब शिव तांडव स्त्रोतम का पाठ किया तो उनके साथ मौजूद बजरंग सेना मप्र के अध्यक्ष अमरीश रॉय सहित अन्य कई लोगों ने वीडियो बना लिया और जब यह सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो इसे सराहकर पसन्द करने वालों की संख्या लाखों में पहुँच गई। कालीचरण बाबा के फेसबुक पेज पर यह वीडियो भोपाल यात्रा और मन्दिर दर्शन के उल्लेख के साथ शेयर किया गया है। कालीचरण बाबा से इस वीडियो को मिली प्रसिद्धि और उनके आने पर बातचीत करने का प्रयास हमने किया लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी।

भोजपुर शिव मंदिर

रायसेन जिले के ओबेदुल्लागंज ब्लॉक में भोजपुर स्थित परमारकालीन शिव मंदिर देश-विदेश में उत्तर का सोमनाथ के नाम से प्रसिद्घ है। यह मंदिर स्थापत्य कला का अद्भुत उदाहरण है। इस शिव मंदिर को दुनिया के सबसे बड़े शिवलिंग के रूप में पहचाना जाता है। गर्भगृह में स्थित 7.5 फुट लंबा और 17.8 फुट परिधि का यह शिवलिंग एक ही चट्टान को काटकर बनाया गया है जो आश्चर्यजनक है। अपने अपार और जटिल संरेखण में शिवलिंग के साथ इस मंदिर को उत्तर भारत का सोमनाथ कहलाने का गौरव प्राप्त है। परमारकालीन इस मंदिर पर प्रतिवर्ष महाशिवरात्रि पर विशाल मेला लगता है। सावन के महीने में यहाँ बड़ी संख्या में लोग आते रहे हैं हालांकि अभी कोरोना के संक्रमण की वजह से कम लोग आ रहे हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020