दो करोड़ की लागत से बने डिवाइडर का निर्माण अधूरा पड़ा

बरेली । शहर के मध्य से एनएच-12 पर 1.6 किलो मीटर तक लगभग 2 करोड़ की लगत से नगर परिषद ने दो वर्ष पहले डिवाइडर का निर्माण करवाया था। इस निर्माण कार्य में भोपाल निवासी ठेकेदार ने निर्माण कार्य का सभी भुगतान नगर परिषद से ले लिया है। उसके बाद भी डिवाइडर का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। खाली पडे़ डिवाइडर के अंदर न ही मिट्टी का भराव किया गया और न ही पेड़- पौधे और न ही जालियां लगवाई गई हैं। कहीं मिट्टी का भराव दिखाई दे रहा है परंतु समतलीकरण नहीं होने के कारण वह सड़क पर गिर कर धूल के गुब्बारों को जन्म दे रही है। नगर परिषद बरेली के पूर्व जनप्रतिनिधियों ने जनहित में करोड़ों के निर्माण कार्य जैसे वार्डों में सीसी सड़क, सीसी नाली सहित अन्य वह निर्माण जो नगर हित में आते हैं वह करवाए हैं। इसके साथ ही अनियमितता हर निर्माण कार्य में रही है। डिवाइडर खाली पड़ा होने से दुकानदार कचरा और गंदगी फेंक रहे हैं। डिवाइडर के अंदर न ही पेड़- पौधे लगाए गए और न ही प्लास्टर किया गया है। कई जगह तो डिवाइडर से वाहन क्षतिग्रस्त भी हुए हैं। जहां से डिवाइडर के निर्माण को छोड़ा गया है वहां कोई सांकेतिक चिन्ह नहीं बनाए गए

हैं।

डिवाइडर के बीच बिजली व्यवस्था भी चरमराई-

डिवाइडर के अंदर लगभग 87 लाख रुपये की लागत का ठेका बिजली पोल लगाने का एक भाजपा के नेता को दिया गया था। बिजली पोल लगाने में भी अनियमितता हुई है। डिवाइडर के बीचों बीच लगे बिजली पोल के बल्ब कहीं जलते हैं तो कहीं बंद पड़े हैं।

30आरएसएन4 बरेली। राष्ट्रीय राज्यमार्ग 12 पर डिवाइडर का कार्य अधूरा पड़ा है।

--------------

थाना परिसर में खड़े कबाड़ दोपहिया वाहनों की रुक गई नीलामी

बरेली। वर्षों से बरेली थाना परिसर में खड़े दोपहिया वाहन कबाड़ हो गए हैं। इन वाहनों की नीलामी की प्रक्रिया तीन माह पहले शुरू हुई थी। जिसका रिकार्ड और लेखाजोखा एसडीएम कार्यालय के समक्ष पहुंचा दिया गया है। बरेली थाना में यहां- वहां खड़े वाहनों को एक जगह साफ सुधरा कर रखवा दिया गया था। एसडीएम का विदिशा स्थानांतरण हो जाने के बाद वाहनों की नीलामी प्रक्रिया रुक गई। वर्तमान एसडीएम संजय उपाध्याय को सूचना देने के बाद भी वाहनों की नीलामी नहीं हो पा रही है।

30आरएसएन5 बरेली। थाना परिसर में रखे वाहन कबाड़ हो गए हैं।

------------

आंगनबाड़ी की क्षतिग्रस्त छत के नीचे पढ़ने मजबूर हैं बच्चे

बरेली। नगर से 8 किलोमीटर दूर ग्राम भौडिया स्थित आंगनबाड़ी केंद्र-1 का भवन जर्जर क्षतिग्रस्त हो गया है। जगह- जगह से इस भवन की

छत टपक रही है। जिसमें 40 बच्चे बैठते हैं और कई गर्भवती महिला टीका लगवाने आती हैं। वह कमरा इतना खतरनाक क्षतिग्रस्त है कि छत जगह- जगह से टपक रहा है। भवन में जगह- जगह दरारें हैं इसके बाद भी नौनिहाल पढ़ रहे उस कमरे में कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है। टीकाकरण करने आने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम भी कई बार विभाग को अवगत करा चुकी है। अधिकारी- कर्मचारी भी सुरक्षित नहीं हैं।

इनका कहना है

भौडिया आंगनबाड़ी केंद्र-1 पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है कभी भी कोई हादसा हो सकता है हमने कार्यकर्ता को अवगत करा दिया है। कई महिलाएं टीकाकरण कराने आती हैं।

शोभानाथ, एएनएम आंगनबाड़ी केन्द्र भौडिया।

30आरएसएन6 बरेली। आंगनबाड़ी भवन की छत क्षतिग्रस्त हो गई है।

-----------

हत्यारों को फांसी की मांग करते हुए सौंपा ज्ञापन

बरेली। विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल ने प्रधानमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन शुक्रवार को नायब तहसीलदार निकिता तिवारी को सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि फरीदाबाद में दिन दहाड़े देश की बेटी निकिता तोमर की गोली मार कर हत्या करने वालों को फांसी की सजा दिलाई जाए।दिल्ली के पास फरीदाबाद में निकिता तोमर की हत्या इसलिए कर दी क्योंकि वह धर्मपरिवर्तन कर उसके निकाह करने को तैयार नहीं हुई।

30आरएसएन7 बरेली। तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते हुए विहिप व बजरंग दल के कार्यकर्ता।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस