राजगढ़ (ब्यूरो)। विभिन्न् कारणों से पढ़ाई छोड़ चुकी जिले की करीब 2400 छात्राओं और महिलाओं ने राज्य ओपन स्कूल परीक्षा में शामिल होने के लिए सोमवार को यहां के स्टेडियम में एक साथ परीक्षा (मिड टर्म टेस्ट) दी। जिले में स्‍कूल छोड़ चुके लोगों को पढ़ाई की मुख्‍यधारा में जोड़ने के लिए अभियान संचालित किया गया है।

शिक्षा विभाग का दावा है कि यह वर्ल्ड रिकॉर्ड

शिक्षा विभाग का दावा है कि यह वर्ल्ड रिकॉर्ड हो सकता है। इस टेस्ट देने वाली छात्राएं, महिलाएं नवंबर-दिसंबर में होने वाली राज्य ओपन स्कूल परीक्षा में शामिल होंगी।

पढ़ाई की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए अभियान चलाया

जिला शिक्षा अधिकारी बीएस बिसारिया ने इस अभियान के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि जिले की जो छात्राएं, महिलाएं किन्हीं कारणों से पढ़ाई छोड़ चुकी थीं। उन्हें फिर से पढ़ाई की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए अभियान चलाया है।

सामूहिक परीक्षा के बाद संवाद कार्यक्रम

इसके तहत जिला प्रशासन एवं ईसीजीसी नामक संस्था के माध्यम से सोमवार को स्टेडियम ग्राउंड में दोपहर 1 से 2 बजे तक जिलेभर की करीब 2400 छात्राओं और महिलाओं की परीक्षा (मिड टर्म टेस्ट) ली गई।बाद में संवाद कार्यक्रम रखा गया था।

जिला शिक्षा अधिकारी बीएस बिसारिया ने बताया कि इसमें शामिल छात्राएं और महिलाएं नवंबर-दिसंबर में होने वाली राज्य ओपन स्कूल परीक्षा में शामिल होंगी।

जिला शिक्षा अधिकारी ने दावा किया कि पढ़ाई छोड़ने वाली 2400 छात्राओं और महिलाओं द्वारा एक साथ परीक्षा (टेस्ट) देना अपने आप में वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इसके लिए एक कमेटी बनी थी, जिसने यह सब देखा है।

Posted By: Hemant Upadhyay