ब्यावरा। नवदुनिया प्रतिनिधि

मौसम विभाग द्वारा राजगढ़ जिले में भारी बारिश के अलर्ट के चलते गुरुवार देर शाम शिक्षा विभाग ने शुक्रवार व शनिवार को समस्त शासकीय व अशासकीय विद्यालयों में अवकाश की घोषणा की थी। इस आदेश को दरकिनार करते हुए नगर की एक निजी संस्था प्रोग्रेसिव हाइट्स स्कूल ने शुक्रवार को विद्यालय बंद नहीं रखा। पूर्व में तय कार्यक्रम के अनुसार विद्यार्थियों को बुलाकर परीक्षा का आयोजन कराया। इसकी खबर लगने पर डीईओं के निर्देश पर बीआरसी केएन दांगी विद्यालय निरीक्षण करने पहुंचे और अपने मोबाइल से रिकार्डिंग करने लगे तो उसी दौरान स्कूल संचालक ने उनका मोबाइल छीन लिया, उनसे अभद्रता की। मामला थाना भी पहुंचा लेकिन दोनों पक्षों में समझौता होने से कोई प्रकरण दर्ज नहीं हुआ। हांलाकि शिक्षा विभाग द्वारा संबंधित स्कूल को आदेश की अवहेलना के चलते नोटिस जारी किया गया है।

थाना में हुआ समझौता

इस पूरे घटनाक्रम के बाद बीआरसी श्री दांगी स्कूल संचालक द्वारा की गयी अभद्रता को लेकर ब्यावरा सिटी थाना पहुंचे। इस पर थाना प्रभारी डीपी लोहिया द्वारा स्कूल संचालक को बुलाया गया। जानकारी के अनुसार वहां बातचीत के बाद दोनों पक्षों में सुलह हो गई। प्रकरण दर्ज नहीं हुआ। थाना प्रभारी श्री लोहिया ने बताया कि इस पूरे मामले में शासकीय कार्य में बाधा, शासकीय कर्मचारी के साथ छीना झपटी व अभ्रदता का मामला बनता लेकिन समझौता होने से व माफी नामा दिए जाने के कारण मामला खत्म हो गया। इस विषय में जिला शिक्षा अधिकारी बीआर बिसारिया ने बताया कि शासकीय नियमों का उल्लघंन हुआ है, स्कूल संचालक ने न सिर्फ स्कूल खोला बल्कि बच्चों से परीक्षाएं भी ली जा रही थी, नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

मैं डीईओं के निर्देश पर स्कूलों के निरीक्षण के लिए गया था, लेकिन प्रोग्रेसिव हाइट्स स्कूल खुला था और वहां बच्चें मौजूद थे, और जब मैंने अवकाश का हवाला दिया तो स्कूल संचालक व स्टाफ ने मेरे साथ अभद्रता की, और बाद में मुझसे माफी भी मांगी। स्कूल को नोटिस जारी किया गया है।

-केएल दांगी, बीआरसी ब्यावरा।

किसी भी शासकीय कर्मचारी के साथ अभद्रता करना गलत है। मामले की जांच की जाएगी। अवकाश घोषित होने के बाद भी स्कूल में परीक्षा आयोजित क्यों की गई।

-निधि निवेदिता, कलेक्टर, राजगढ़।