ब्यावरा। सिटी थाना ब्यावरा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम धनियाखेड़ी से सूचनाकर्ता रामेश्र्वर सोंधिया द्वारा दोपहर 3 बजे 100 डायल पर सूचना दी गई, कि एक बुजुर्ग व्यक्ति जो कि ग्राम धनिया खेड़ी में सुबह से घूम रहे हैं और घर का पता सही नहीं बता पा रहे थे, थाना क्षेत्र की डायल 100 में पदस्थ बल को सूचना प्राप्त होते ही थाना प्रभारी राजपाल सिंह राठौड़ के आदेश पर तत्काल डायल हंड्रेड मौके पर पहुंच गई और टीम द्वारा बुजुर्ग व्यक्ति को अपनी सुरक्षा में लिया। बुजुर्ग व्यक्ति कुछ भी बताने में सक्षम नहीं थे। इस कारण पुलिस को खासी मशत करनी पड़ी और उनके फोटो कई वाट्सएप ग्रुप में भेजे गए। जिसकी सहायता से उनकी पहचान खुमान सिंह राजपूत (80)निवासी ग्राम रसूलपुरा जिला सीहोर की हुई और उनके परिजनों से संपर्क किया गया और उन्हें परिजनों से मिलाने की व्यवस्था शुरू की गई। ब्यावरा सिटी थाना प्रभारी द्वारा बुजुर्ग व्यक्ति तो उचित व्यवस्था दिलाने के निर्देश दिए गए। पुलिस टीम ने देर न करते हुए बुजुर्ग व्यक्ति को अपने परिवार से मिलाने के लिए मात्र 3 घंटे में इंटरनेट मीडिया वाट्सएप ग्रुप द्वारा उनके परिवार को खोज निकाला।

हाट बाजार के लिए निकले थे बुजुर्ग

धानियाखेड़ी ग्राम में मिले बुजुर्ग को डायल 100 टीम के जवान ने उन्हें पहले खाना खिलाया पानी पिलाया तब जाकर बुजुर्ग व्यक्ति के चेहरे पर खुशी की चमक अलग ही दिखाई दे रही थी। इसके बाद उन्हें थाना लाया गया । यहां 5 दिन बाद मिले अपने पिताजी को सुरक्षित एवं स्वस्थ देखकर उनके पुत्र कल्लू एवं जगदीश राजपूत जो कि सीहोर जिले से ब्यावर सिटी थाने आए उनके गमगीन चेहरों पर खुशी लौट आई। परिजनों से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि 5 दिन पहले हाट बाजार करने का बोल कर घर से निकले थे जिसके बाद वह वापस घर नहीं लौटे। हमने आसपास कई जगह पर पता किया तब भी उनके पिताजी का कोई पता नहीं चल रहा था। पुलिस प्रशासन की डायल हंड्रेड की सहायता मिली और परिजनों सहित आसपास के लोगों ने भी पुलिस टीम की तत्पर कार्यवाही पर जिला पुलिस बल की सराहना की और धन्यवाद दिया। इस कार्य में डायल हंड्रेड में पदस्थ स्टाफ में प्रधान आरक्षक राकेश शर्मा, आरक्षक राजेश मीणा, व पायलट सुरेश यादव का सराहनीय प्रयास रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local