राजगढ़, नवदुनिया प्रतिनिधि। रविवार-सोमवार की दरमियानी रात को राजगढ़ व करेड़ी के बीच सड़क पर बेसहारा मवेशी को बचाने के दौरान एक कार अनियंत्रित होकर करीब 40 फीट गहरे कुएं मे जा गिरी। इस हादसे में दो युवकों की मौत हो गई, जबकि कार चालक गंभीर रूप से घायल है। मृतकों में बजरंग दल के विभाग सह संयोजक था, जबकि दूसरा एबीवीपी का जिला संयोजक रह चुका था।

जानकारी के मुताबिक बजरंग दल के विभाग सह संयोजक लेखराज सिसोदिया व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व जिला संयोजक लखन नेजर रात करीब 12,30 बजे राजगढ़ से खुजनेर की ओर जा रहे थे। तब ही राजगढ़ व करेड़ी के बीच उनकी कार के सामने अचानक एक मवेशी आ गया। मवेशी को देख चालक ने उसको बचाने का प्रयास किया और स्‍टेयरिंग घुमा दिया। इससे कार अनियंत्रित होकर सड़क से बायीं ओर खेत मे चली गई। इसी दौरान खुद को बचाने के चक्‍कर में चालक कार से कूद गया और कार रोड से करीब 40-50 फीट दूर बने पानी से भरे कुएं में जा गिरी। कुआं 40 फीट अधिक गहरा था। कार में सवार दोनों युवकों को बाहर निकलने का अवसर नहीं मिला, जिसके चलते उनकी मौत हो गई। जबकि कार चला रहे युवक को गम्भीर चोटें आई है। उसे गम्भीर अवस्था मे इंदौर रेफर किया गया है। युवक के सिर में 14 टांके आए हैं।

हादसा होते देख आसपास खेतों में काम कर रहे ग्रामीण तुरंत दौड़कर घटनास्‍थल पर पहुंचे और पुलिस को घटना की सूचना दी। पुलिस के साथ होमगार्ड की टीम भी मौके पर पहुंची और बचाव कार्य शुरू किया। करीब दो घंटे की मशक्‍कत के बाद कार को पानी से बाहर निकाला जा सका।

गोसेवा से जुड़े थे युवक, हादसे के बाद शहर में दुःख का माहौल

जानकारी के मुताबिक दोनों युवक जहां बजरंगदल व एबीवीपी संगठनों में काम करते थे वहीं वह गौसेवा से भी जुड़े हुए थे। आये दिनों बेसहारा मवेशियों की सेवा कार्य मे संलग्न रहते थे। मवेशियों के चोटिल होने अथवा बीमार होने पर दोनों युवक अपने अन्य साथियों के साथ पहुंचकर गोसेवा करने का कार्य करते थे। हादसे की खबर लगने के साथ ही जिले में शोक छा गया। हर कोई दुखी है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local