ब्यावरा (राजगढ़)। रुठियाई-मक्सी रेलवे ट्रैक के विद्युतीकरण का कार्य कर रही कंपनी के कर्मचारियों की लापरवाही से गुरुवार की रात भिंड-रतलाम इंटरसिटी एक्सप्रेस के यात्री खासे परेशान हुए। यहां ट्रैक पर लटकते तार इस ट्रेन के इंजन में उलझ गए। इससे ट्रेन चार घंटे तक खड़ी रही। इस कारण अन्य ट्रेनें भी प्रभावित हुईं।

जानकारी के अनुसार जल्द काम निपटाने के प्रयास में कंपनी के कर्मचारी रात में भी यहां काम करते हैं। इसी के चलते रात में बीनागंज स्टेशन से कुछ दूर ट्रैक पर तार लटक रहे थे। इस पर कर्मचारियों ने ध्यान नहीं दिया। रात करीब साढ़े तीन बजे भिंड से रतलाम जा रही इंटरसिटी एक्सप्रेस यहां से गुजरी तो तार उसके इंजन में फंस गए।

ड्राइवर ने समय रहते ट्रेन रोक दी। सुखद बात यह थी कि विद्युतीकरण कार्य के कारण ट्रेन धीमी गति से चल रही थी। इससे कोई हादसा नहीं हुआ। सूचना मिलने पर आरपीएफ और रेलवे की इलेक्ट्रिकल शाखा का स्टाफ पहुंचा।

अंधेरे क्षेत्र में ट्रेन रुकने से यात्रियों में दहशत थी। काफी देर की मशक्कत के बाद तार निकाले जा सके। तब ट्रेन सुबह साढ़े सात बजे आगे रवाना हुई। इस कारण इस रूट की अन्य ट्रेनें भी प्रभावित हुईं। अब आरपीएफ इस मामले की जांच कर रही है।

ट्रेन को रोकना पड़ा

रात में इंजन में तार फंसने से ट्रेन को रोकना पड़ा था। सूचना पर आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची थी। काफी मशक्कत के बाद इंजन से तार हटाकर ट्रेन को आगे रवाना किया। मामले की जांच की जा रही है।

- अशोक मिश्रा, आरपीएफ थाना प्रभारी ब्यावरा स्टेशन