फोटो केप्शनः

23बीआरओ 7ः भंडारे के दौरान प्रसादी लेते बच्चे। फोटोःनवदुनिया

23बीआरओ 8ः अखंड पारायण का समापन हुआ फोटोःनवदुनिया

रामायण पाठ के समापन पर किया हुआ कन्या भोज-भंडारे का आयोजन

छापीहेड़ा। नगर में लगातार सावन मास में दसवें वर्ष 108 श्री गंगादासजी महाराज द्वारा अखण्ड रामायण पाठ करवाया जिसके समापन पर भोले मित्र मंडल द्वारा पूर्णाहुति एव कन्या भोज का आयोजन रखा गया। जिसमे नगर के समस्त स्कूलों की बालिकाओं ने भोजन किया। भोले मित्र मण्डल के दीपक इग्ले, श्याम शर्मा, सुनील भोले, श्याम शर्मा, मुकेश सोनी, श्याम भोले, महेश टांक, मुकेश वैष्णव आदि हर वर्ष की तरह तन मन धन से सहयोग करते आ रहे है। पारायण, अभिषेक, पूजन आदि कार्य यहां बस स्टैंड स्थित शिवालय पर पूरे सावन मास करवाए गए। समापन पर भोले मित्र मंडल द्वारा 22 अगस्त को कन्या भोज व भंडारा होगा तथा 26 अगस्त को महाकालेश्वर की शाही सवारी, भोले मित्र मंडल का वाहन भी शामिल होगा। सदस्यगण उज्जैन में दर्शन लाभ लेंगे। समापन पर हवन शांति कर पुर्णाहूति की गई। उल्लेखनीय है कि नगर में जबसे गंगादास महाराज द्वारा यह धार्मिक अनुष्ठान करवाए जा रहे हैं। नगर में अब तक के आए साधुओं में 2 साधुओं की विशेष उपलब्धि रही एक गंगादास का यह पुनीत कार्य दूसरे पागलदास महाराज जिन्होंने वीरगंगा क्षेत्र में पंचमुखी हनुमान, शिव शनि मंदिर स्थापित कर नगर को धार्मिक सौगात प्रदान की है।