जिले में पारंपरिक आस्था व उत्साह से मना महाशिवरात्रि का त्योहार।

सचित्र आरएजे 28 नरसिंहगढ़। बाबा बैजनाथ महादेव शिवालय पर उमड़ी श्रृद्घालुओं की भीड़। (-नवदुनिया)

29 नरसिंहगढ़। नादिया पानी शिवालय पर शिवलिंग का किया आकर्षक श्रृंगार। (-नवदुनिया)

30 कुरावर। चल समारोह में सजाई भगवान शिव की जीवंत झांकी। (-नवदुनिया)

31 माचलपुर। चल समारोह में शामिल हुए स्थानीय श्रद्घालु। (-नवदुनिया)

32 संडावता। भूमिकेश्वर महादेव शिवालय पर अभिषेक, पूजन करते श्रद्घालु। (-नवदुनिया)

33 करेड़ी। महाशिवरात्रि पर शिवालय का फूलों से किया आकर्षक श्रृंगार। (-नवदुनिया)

नरसिंहगढ़/कुरावर/खिलचीपुर/माचलपुर/उदनखेड़ी/करेड़ी/संडावता (नवदुनिया न्यूज)।

महाशिवरात्रि पर्व शुक्रवार को जिले के नरसिंहगढ़, कुरावर, खिलचीपुर, माचलपुर, उदनखेड़ी, करेड़ी व संडावता में पारंपरिक आस्था व उत्साह के साथ मनाया गया। शिवालयों का आकर्षक श्रृंगार किया गया व दिनभर अभिषेक, पूजन आरती का दौर चलता रहा। बड़े आयोजनों में भगवान शिव की बरात भी निकाली गई। शिव-पार्वती के विवाह में श्रद्घालु बराती बने। भांग का प्रसाद बांटा गया व चल समारोहों में शामिल श्रद्घालुओं का सामाजिक, धार्मिक संगठनों ने पुष्पवर्षा कर स्वागत किया।

नरसिंहगढ़ के बाबा बैजनाथ बड़े महादेव एवं छोटे महादेव शिवालय पर बड़ी संख्या में श्रद्घालुओं ने देर रात तक आमद दर्ज कराई। छोटे महादेव शिवालय के पुजारी पं गौरीशंकर शर्मा, खजूर पानी पर पं राजेश चतुर्वेदी ने महाभिषेक किया। शाम को भगवान शिव-पार्वती का विवाह संपन्न हुआ। जल मंदिर, गुप्तेश्वर, नादिया पानी, कोदू पानी शिवालयों पर भी श्रृद्घालुओं की खासी भीड़ रही। गायत्री मंदिर, श्रीमानस गीता गोशाला, मंदिर श्रीजमात, रामलला मंदिर पर भी धार्मिक कार्यक्रम हुए। महादेव सेना अध्यक्ष प्रवीण ग्रोवर, गजेंद्र केलवा व राकेश गुप्ता सहित मंदिर से जुड़े सदस्यों ने महाप्रसाद वितरण कराई। लखनवास के शिव मंदिर व बड़े महोदव मंदिर में भगवान शिव का विशेष श्रृंगार किया गया।

कुरावर में सुबह से विशेष पूजा आराधना का दौर शुरू हुआ। नगर में चल समारोह निकाला गया, जो पुरानी बस्ती स्थित खेड़ापति हनुमान मंदिर परिसर से लसूड़लिया के श्रीरामलला मंदिर पहुंचा। चल समारोह का नागरिकों ने स्वागत किया। अखाड़ा कलाकारों ने शस्त्र प्रदर्शन किया।

खिलचीपुर में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के बड़ी गली स्थित सेवा केंद्र पर एसडीओपी निशा रेडी, थाना प्रभारी वीरेंद्र धाकड़ एवं सेवा केंद्र संचालिका बीके तेजस्विता आदि ने शिव ध्वज फहराया।

माचलपुर में शिवालयों को आकर्षक रूप से सजाया गया। वाघा बड़ली पर शिवालय को विद्युत सजावट के साथ भोलेनाथ का श्रृंगार कर पूजा आरती की गई। बागेश्वर मंदिर पर सुबह से भक्तों का तांता लग रहा। महाकाल की सवारी निकाली गई, जो बागेश्वर मंदिर पहुंची।

उदनखेड़ी में हिंदू उत्सव समिति के तत्वावधान में सोमनाथ महादेव मंदिर, सोसाइटी परिसर में स्थित मनकामेश्वर शिव मंदिर में विशेष धार्मिक आयोजन हुए। डीजे की धुन पर भगवान शिव की बरात निकाली गई।

करेड़ी के मंदिरों में दिनभर श्रद्घालुओं की आवाजाही रही। नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर पर अभिषेक कर फूलों से आकर्षक साज-सज्जाा की गई। भगवान महादेव का दूध एवं जल से अभिषेक कर पूजा-अर्चना की गई। मनकामेश्वर महादेव मंदिर, पुष्पद वाटिका एवं निजी शिवालयों पर भी पूजा अर्चना का दौर चला।

संडावता के उदासीन आश्रम पर महंत श्रीमहेशानंद उदासीन के मार्गदर्शन में लोक मंगल की कामना के साथ पंचामृत से शिवाभिषेक किया गया। भूमिकेश्वर महादेव मंदिर पर मेले में आस्था का सैलाब उमड़ा। झिरी के पास स्तिथ पाठेश्वर महादेव मंदिर पर भी लोगों की आवाजाही रही। श्रीनृसिंह मंदिर परिसर स्तिथ रामेश्वर महादेव शिवालय में अखंड नाम जप के साथ ही शिवाभिषेक किया गया। मनकामनेश्वर महादेव मंदिर से देर शाम भोलेबाबा की शोभायात्रा निकाली गई व रात्रि में भजन संध्या का आयोजन हुआ।

Posted By: Nai Dunia News Network