राजगढ़, नवदुनिया प्रतिनिधि। नेशनल हाइवे क्रमांक-3 आगरा-मुंबई रोड पर सोमवार सुबह एक तेज रफ्तार कार ने पहले एक युवक को टक्कर मारी और उसके बाद कंटेनर से जा टकराई। इस हादसे में कार चालक व राहगीर की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में तीन लोग घायल हुए हैं। वाहन में सवार तीन लोगों में एक ने खुद को गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का स्टाफ बताया है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह एक वाहन दतिया से उज्जैन के लिए जा रहा था। इस वाहन ने ब्यावरा की ओर से सारंगपुर की ओर जाते समय पचोर से करीब 10 किमी आगे निकलकर सरेड़ी गांव के समीप सड़क किनारे पैदल चल रहे 30 वर्षीय युवक कन्हैया लाल पिता हरिसिंह निवासी सरेड़ी को टक्कर मार दी। युवक को टक्कर मारने के साथ ही वाहन हाइवे किनारे खड़े एक कंटेनर से जा टकराया। इस हादसे में वाहन का अगला हिस्‍सा बुरी तरह क्षतिग्रस्‍त हो गया और वाहन चालक चालक प्रतापसिंह जादौन, उम्र 40 वर्ष, निवासी ग्वालियर की मौके पर ही मौत हो गई। इस हादसे में कार में सवार गोपीलाल पिता तोलाराम वर्मा निवासी डबरा, जो खुद को गृहमंत्री के निज सहायक बता रहे थे वह स्वयं, सन्नी पिता प्रमोद नाहर उम्र 35 वर्ष, निवासी डबरा और सूरज पिता सीताराम गुप्ता उम्र 40 वर्ष निवासी डबरा घायल हो गए। घायलों को पहले पचोर अस्पताल लाया गया। जहां उनका प्राथमिक उपचार किया गया। इसके बाद उन्हें भोपाल के लिए रेफर कर दिया।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पचोर थाना की पुलिस को घायल गोपीलाल ने खुद को मंत्री का स्टाफ बताया। उन्होंने बताया कि वह गृहमंत्री नरोत्‍तम मिश्रा के निजी सहायक हैं। इसके बाद उन्हें पचोर अस्पताल से निजी वाहन के जरिए भोपाल के लिए रेफर किया गया।

इनका कहना है

ग्वालियर की गाड़ी थी व उनके ही ड्रायवर थे, जिसकी मौत हुई है। खुद को मंत्रीजी का स्टाफ वह बता रहे थे। किसी निजी काम से उज्जैन जा रहे थे।

-डीपी लोहिया, टीआइ, पचोर

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local