नरसिंहगढ़। वर्तमान में शहर की खराब सड़कें ही सबसे बड़ा मुद्दा बनी हुई है। बारिश में कीचड़ से मुसीबत तो अन्य दिनों में धूल और गड्ढ़ों से होने वाली समस्या को शहरवासी लंबे समय से झेल रहे है। वहीं लाखों के सड़क निर्माण में ठेकेदारों की लापरवाहीं से भी इन समस्याओं में सुधार के आसार नजर नहीं आ रहा है। इन सबके के पैचवर्क के लिए योजना तैयार कर बकायदा उसकी तकनीकी स्वीकृति भी ले रखी है। लेकिन बार-बार हो रही बारिष भी सड़क सुधार के कार्यो में रूकावट बनी हुई है। हालाकि नगरपालिका अब शीघ्र लोगों की परेशानियों को देखते हुए पेंचवर्क शुरू करने जा रही है। हालाकि शहर की सड़कों की स्थिति पेचवर्क जैसी बनी नही है। लेकिन बजट के अभाव में यदि पेचवर्क का काम ही योजनाबद्व तरीके से हो जाए तो लोगों को जर्जर सड़कों से काफी राहत मिल सकती है, अब देखना है कि काम कब शुरू होगा।

व्यवस्थित नाली निर्माण की दरकार

सड़कों के निर्माण के साथ षहर में व्यवस्थित नाली निर्माण भी किए जाने की दरकार है। दरअसल कई हिस्सों में सड़क निर्माण के साथ नालियों का निर्माण नही किया गया। ऐसे में घरों से निकलने वाला गंदा पानी सड़कों पर ही बहता नजर आता है। सड़कों पर बहते पानी पर जब वाहनों का दबाब बढ़ता है तो सड़कें जर्जर होना शुरू हो जाती है। संजयनगर, लंकापुरी, बाराद्वारी सहित अन्य स्थानों पर इसी तरह के हालात आसानी से देखे जा सकते है। फिलहाल नई सड़कों या पेंचवर्क के साथ पानी निकासी के उचित इंतजामों पर भी ध्यान दिया जाना जरूरी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags