राजगढ़। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राजपूत सौंधिया समाज ने अपने 6 विवाह सम्मेलनों के आयोजनों को निरस्त कर दिया गया है। जहां 700 जोड़ों का विवाह संपन्ना होना था। समिति ने इसके लिए जिला मुख्यालय पर बैठक रख शादी वाले परिजनों से सादा समारोह में कम संख्या के साथ शादियां करने का आह्वान किया है।

जानकारी के मुताबिक वर्तमान में कोरोना अपने चरम पर है। सौंधिया समाज ने भी सम्मेलन निरस्त करने का निर्णय लिया है। अप्रैल व मई माह में होने वाले 6 सामूहिक विवाह सम्मेलन स्थगित कर दिए है। जिनमे 700 जोड़ो का विवाह होना था। अप्रैल और मई माह में होने वाले इन सम्मेलनों के लिए तैयारियां समाज संगटन द्वारा पूरी कर ली गयी थी। वर वधु की तरफ से सहयोग राशि जमा करवाई जा चुकी थी। अब वधु को दहेज में दिया जाने वाला सामान दिया जाएगा। तथा बाकि बची हुई राशि एक बैठक करके दी जाएगी। इसी तारतम्य में राजगढ़ के सामाजिक परिसर में एक बैठक आयोजित की गई। युवा अध्यक्ष सुनील सरावत ने बताया कि सभी सम्मेलन निरस्त कर दिए हैं। जिसमें मोठबल्डी, मोतीपुरा, बनानिया, लिम्बोदा, कोडक्या, देवपुर गादन के सम्मेलन रोके गए। बैठक में समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक नारायण सिंह पंवार, प्रताप सिंह सिसोदिया, जिला अध्यक्ष प्रेम आमलाबे उदय सिंह चौहान हरिसिंह चौहान भगवान सिंह छत्री जिलाउपाध्यक्ष चन्दर सिंह सौंधिया सहित समाजजन उपस्थित रहे।

आपदा प्रबंधन की बैठक में हुए निर्णय के तहत हमारी समाज ने 6 सम्मेलन को स्थागित कर दिया है। इन सम्मेलनों में 700 जोड़ों का विवाह होना था

नारायणसिंह पंवार, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक ब्यावरा

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags