राजगढ़। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जबलपुर के निर्देशानुसार प्रभात कुमार मिश्रा जिला न्यायाधीशी/अध्यक्ष के मार्गदर्शन में बंदियों के अधिकार एवं प्लीबारगेंनिंग विषय पर ऑनलाईन वर्चुअल माध्यम से विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर श्रीमती अंजली पारे तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश जिला न्यायालय के मुख्य आतिथ्य में आयोजित कर बंदियों की समस्यायें सुनीं गईं। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित श्रीमती अंजली पारे तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश ने उपजेल सारंगपुर एवं नरसिंहगढ़ के बंदियों से ऑनलाईन वर्चुअल माध्यम से जुड़कर सर्वप्रथम अपने उद्बोधन में कहा कि इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि कोरोना संक्रमण की वजह से न्यायालयीन कार्यवाहियां भी रोकनी पड़ीं और सिर्फ अत्यावयक मामलों की सुनवाई ही चल सकी। ऐसे दौर में जेल में निरूद्ध बंदियों के प्रकरणों की सुनवाई भी यथोचित नहीं हो सकी। चूॅंकि अब संक्रमण कम होने व लॉकडाउन खत्म होने से न्यायालयों की कार्यवाहियां समुचित प्रकार से चालू हो रही हैं तथा 05 वर्ष पुराने एवं विचाराधीन बंदियों के प्रकरणों में शीघ्र सुनवाई की जा रही है। निरूद्ध कैदी अपने मामलों की उचित प्रकार से सुनवाई हेतु अपने अधिवक्ता को अपने प्रकरणों में विलंब न होने देने हेतु सतत् संपर्क में रहे। ताकि प्रकरणों का निपटारा शीघ्र हो सके। यदि कोई बंदी अपने प्रकरण में प्राईवेट अधिवक्ता कर पाने में सक्षम न हो, कोर्ट फीस भुगतान करने योग्य न हो तो ऐसे व्यक्ति जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राजगढ़ से संपर्क कर नि?शुल्क विधिक सलाह व सहायता प्राप्त कर सकते हैं। इस दौरान दोनों जेलों के अधिकतर बंदियों द्वारा उनके लंबित प्रकरणों में सुनवाई नहीं होने तथा प्रकरणों को स्थानांतरित कराने जैसी समस्यायें बताईं गईं एवं न्यायाधीश द्वारा बंदियों की समस्यायें सुनीं जाकर विधिक सलाह भी दी गई।

इस अवसर पर विषेष अतिथि के तौर पर उपस्थित फारूक अहमद सिददीकी जिला विधिक सहायता अधिकारी द्वारा भी बंदियों को विधिक सलाह व सहायता की जानकारी प्रदान की गई। बंदियों की विधिक समस्याओं का निराकरण भी किया गया। साथ ही उपजेल नरसिंहगढ़ एवं सारंगपुर में निरूद्ध जेल बंदियों को उच्च न्यायालय खंडपीठ जबलपुर द्वारा स्वत? संज्ञान में ली गई। इस दौरान उपजेल नरसिंहगढ़ सहायक जेल अधीक्षक योगेश शर्मा, जेल कर्मचारी सुश्री पूर्णिमा एवं उपजेल सारंगपुर से जेल कर्मचारी मुकीम खान व दोनों जेलों में निरूद्ध सजायाफ्ता व विचाराधीन बंदी ऑनलाईन माध्यम से उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags