राजगढ़ (नवदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड वृत राजगढ़ के अंतर्गत आने वाले समस्त डिवीजन, वितरण केंद्र, विद्युत उपकेंद्रों में कार्यरत आउटसोर्स कर्मचारी बिजली कंपनियों में संविलियन की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। इस संबंध में उनके द्वारा संबंधित अधिकारियों को सूचना के रूप में ज्ञापन दिया गया। हड़ताल पर जाने के लिए सौंपे गए ज्ञापन में कर्मचारियों द्वारा कहा गया कि 23 अगस्त को ऊर्जा मंत्री प्रधुमनसिंह तोमर के साथ संगठन के प्रतिनिधियों की बैठक सम्पन्ना हुई थी। जिसमे संगठन के पदाधिकारियों ने आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को विभागीय संविलियन की मांग की थी। ऐसे में उर्जा मंत्री ने कर्मचारियों की विभागीय संविलियन की मांग को एक माह में पूरा करने के लिए आश्वस्त किया था। 23 सितंबर को एक माह पूरा हो गया, लेकिन इस दिशा में विभाग कुछ नही कर सका। जिसके चलते कर्मचारियों में खासा आक्रोश व्याप्त है। ऐसे में जिले के कर्मचारी 27 से कामबंद हड़ताल पर रहेंगे। इसके अलावा खिलचीपुर नाके से कलेक्ट्रेट तक रैली निकालकर विरोध जताते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन सौंपा

यह कार्य होंगे प्रभावित

बिजली आउटसोर्स कर्मचारियों के अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाने के कारण कम्प्यूटर संबंधी कार्यालयीन कार्य, डाटा इंट्री, ऑनलाइन कार्य, वरिष्ठ कार्यालय द्वारा मांगी जाने वाले फार्मेट से संबंधी कार्य, बिजली बिलों का वितरण, उपभोक्ता के कनेक्शन का सर्वे, विद्युत व्यवधान का निराकरण, उपभोक्ताओं की शिकायतों का निराकरण, बिजली बिल की वसूली, विद्युत उप केंद्रों का संचालन, फाल्ट आने पर समस्या का निराकरण इत्यादि कार्य प्रभावित होंगे।

यह है प्रमुख मांगें

आउटसोर्स कर्मचारियों को बिजली कंपनियों में संविलियन किया जाए, समान कार्य समान वेतन का लाभ दिया जाए, आउटसोर्स कर्मचारियों का शोषण बंद हो।

कहां कितने कार्यरत हैं

केपीओ-170

मीटर रीडर-290

ग्रीड आपरेटर-250

अन स्कीलर-140

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local