राजगढ़ (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजगढ़ शहर में खरला नाले के ऊपर जो नया ब्रिज बनाया जाएगा उसको सीधा किया जाएगा, ताकि ब्रिज ठीक बन सके व रोड एवं पुल के घुमाव को खत्म किया जा सके। साथ ही अधूरे रोड को भी पूरा किया जाएगा। इसके अलावा खोयरी महादेव मंदिर पर चल रहे सौंदर्यीकरण सहित विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी। शहर में कचरा पाइंटों को व्यविस्थ किया जाएगा, ताकि कचरा न उड़े। इसके लिए कलेक्टर हर्ष दीक्षित ने शहर का निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश सीएमओ पवन अवस्थी को दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि शहर को व्यविस्थत करने व रूके हुए कार्यों को शुरू कराने के लिए कलेक्टर श्री दीक्षित शहर के भ्रमण पर निकले थे। इस दौरान उन्होंने खरला नाला क्षेत्र का भ्रमण किया। जहां ब्यावरा नाका से लेकर राजेश्वर कांवेंट स्कूल तक बनने वाले रोड को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। साथ ही इस मार्ग पर खरला नाले के ऊपर ब्रिज का घुमाव खत्म करते हुए ब्रिज निर्माण करवाने के निर्देश सीएमओ को दिए। यहां 3 करोड़ से अधिक राशि से रोड व ब्रिज का निर्माण किया जाना है। रोड आधा-अधूरा बना हुआ है, जबकि पुल का निर्माण कार्य शुरू नहीं किया जा सका है। जिसको जल्द प्रारंभ करने के लिए कहा गया। नगर पालिका के इंजीनियरों द्वारा ब्रिज की ड्राइंग तैयार करना शुरू कर दी है।

कचरा न उड़े इसलिए यहां बनेंगे कचरा पाइंट

शहर की गलियों व मोहल्लों से निकलने वाले कचरे को फिलहाल शहर में 12स्थानों पर एकित्रत किया जाता है। इसके बाद फिर नगर पालिका केकचरा वाहन वहांसे उसे उठाकर ले जाते हैं। लेकिन फिलहाल जहां कचराा एकित्रत किया जाता है वहां पर कचरा पूरे समय ़उडता रहता है। ऐसेमें कलेक्टर ने निरीक्षण करते हुए इन पाइंटों को बाउंड्री बनाकर व्यविस्थत करने के निर्देश दिए हैं। जिसके तहत अब कलेक्टर बंगले के सामने, पुरानी कलेक्ट्रेट, पुरा, बस स्टैंड के समीप, खिलचीपुर नाके पर प्रतिक्षालय के पीछे, पारायण चौक, रामलीला, मंगल भवन सहित 12 स्थानों पर व्यविस्थत पाइंट बनाए जाएंगे।

खोयरी महादेव मंदिर पर निर्माण कार्यों में लाना होगी गति

कलेक्टर ने शहर के प्रसिद्ध खोयरी महादेव मंदिर का भी निरीक्षण किया। ऐसे में यहां 7.50 करोड़ रुपये की लागत से होरहे विकास कार्यों को पूरी गति के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए। यहां पर ब्रिज, पार्किंग, सामुायिक भवन, शोचालय बनाने के साथ ही अन्य सौंदर्यीकरण के कार्य पूरे करनेके निर्देश दिए। कहा कि यह लंबे समय से काम चल रहे हैं। इन कार्यों में तेजी जाए, ताकि जल्द से जल्द पूरे हो सके।

वन स्टॉप सेंटर केलिए देखे स्थान

शहर में महिला बाल विकास के माध्यम से वन स्टॉप सेंटरका निर्माण किया जाना है। ऐसे में उक्त भवन बनाने के लिए कलेक्टर ने डोडी शाला, रामलीला कालोनी आदि स्थलों का निरीक्षण किया, हालांकि उसके लिए फिलहाल स्थल तय नहीं किया जा सका। इसकेे साथ ही शहर में स्वच्छता का ध्यान रखने के निर्देश दिए। साथ ही पेयजल सप्लाई, अतिक्रमण को भी देखा गया। व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश सीएमओ को दिए। इस मौके पर एसडीएम नेहा साहू मौजूद थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local