राजगढ़ (नवदुन‍िया प्रतिनिध‍ि )। चिंता करने की जरूरत नहीं है, 216 ही पार्षद नोट कर लो। घर-घर जाकर कह दो संबल योजना में जो नाम काट दिए गए हैं एक-एक नाम जो़ड दिए जाएंगे। कह दो मामा की सरकार है कोई बेटा, बेटी पढ़ाई से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। दिग्गी राजा तुमने अपने घर भरे, हम गरीबों की फीस भरकर बच्चों की जिंदगी संवारने का काम करेंगे। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने मंगल भवन में निकाय चुनाव में पार्षदों के पक्ष में सभा को संबोधित करते हुए कही।

आगे जनता से पूछा कि आप बताओ ईमानदारी से की दिग्गी राजा मुख्यमंत्री रहे, कभी फ्री में राशन दिया। फ्री में राशन देने का काम भाजपा की सरकार कर रही है। भाजपा के पार्षद अपने-अपने वार्ड में देख लेना किस-किस का नाम नहीं जु़डा। उनकी सूचि बना लेना, कह देना हर गरीब को राशन दिया जाएगा। गरीबों का दुख-दर्द दूर करने वाली पार्टी है भारतीय जनता पार्टी। कांग्रेस ने सब बंद ही बंद किया है सब मिलकर अब कांग्रेस को ही बंद कर दो। आगे कहा कि यदि निकायों में पार्षद, अध्यक्ष कांग्रेस के बैठ गए तो क्या विकास कार्य होगा क्या, नहीं होगा, बंटाधार हो जाएगा। इसलिए मैं सावधान करने आया हूं कि पैसे मैं भेेजूंगा और यदि भाजपा की परिषद होगी तो ठीक से विकास कार्य होंगे, नहीं तो वह तो लड़ाई करने में ही खर्च कर देंगे। इसलिए हाथ जोड़कर निवेदन करने आया हूं कि कोई भी कुछ गलती न करें।

हिंदी में चालू होगी अब मेडिकल-इंजीनियरिंग की पढ़ाई

मुख्यमंत्री ने संबोधित करते हुए कहा कि अब सीएम राइस स्कूल खोल रहा हूं, वहां प्रायवेट स्कूलों से अच्छी पढाई हो सके। डाक्टर, इंजीनियर ब़डे पदों की पढाई अंग्रेजी में होती थी, ताकि गरीबों के बच्चे पढ़ न सके। यह षडयंत्र था। सुन लो अब मेडिकल व इंजीनियर की पढ़ाई भी हिंदी में कराई जाएगी, हिंदी में। यह क्रांति है जो मप्र की धरती से उदय हो रही है। कमल नाथ की जब सरकार थी तब दो लाख प्रधानमंत्री आवास दिग्विजयसिंह, कमल नाथ ने कटवाए। जितने हमने काम किए उतने कांग्रेस ने कभी नहीं किए। जब कांग्रेस की सरकार थी तब कमल नाथ रोते ही रहते थे कि पैसे नहीं है, शिवराज जी खजाना खाली कर गए। लेकिन मैं कहता हूं कि हमारे राज में पैसों की कोई कमी नहीं है।

बेटियों को मिलेंगे पढ़ाई के लिए रुपये

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि लाड़ली लक्ष्मी एक बार सुन लो। पांचवी पास करके छठवीं में जाए तो दो हजार, आठवीं पास करके 4, 10 से 11 में 7500, 11 वीं में 6 हजार और, कालेज में पढ़ने जाएगी तो 25 हजार और दिए जाएंगे। मेडिकल कालेज में प्रवेश होता है तो फीस भले ही 8-10 लाख रुपये साल हो उनकी वह फीस मामा भरवाएगा। बेटो तुम्हे निरश होने की जरूत नहीं है। कमल नाथ जी दिग्वियजयसिंह से पूछता हूं, जवाब देना पड़ेगा। मैंने संबल योजना बनाई।

विधायक बोले-पार्षदों के लिए मुख्यमंत्री को आना पड़ रहा है

मुख्यमंत्री के राजगढ़ आगमन के पहले कांग्रेस विधायक बापूसिंह तंवर ने कहा कि चुनाव को प्रभावित करने के लिए मुख्यमंत्री आ रहे हैं। पार्षद जैसे छोटे चुनावों में भी मुख्यमंत्री को आना पड़ रहा है। इससे भाजपा की हालत का अंदाजा लगाया जा सकता है। टिकट वितरण में जमकर बंदरबाट हुई है, इसलिए यहां भाजपा के अंदर ही असंतोष है। जिसके कारण अब पार्षदों को जिताने के लिए मुख्यमंत्री को यहां आना पड़ रहा है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close